Tuesday, 19 June 2018, 2:26 AM

ज्योतिष एवं वास्तु

एक तस्वीर बदलेगी तकदीर

Updated on 4 May, 2018, 6:40
आजकल भारत में वास्तु के साथ-साथ चाइनीज़ वास्तु फेंगशुई का भी प्रचलन बढ़ने लगा है। लोगों का मानना है कि फेंगशुई भी जीवन की समस्याओं को दूर करने का एक बेहतर साधन है। चाहे लॉफिंग बुद्धा हो या विंड चाइम, हर घर में फेंगशुई से जुड़ी कोई न कोई चीज़... आगे पढ़े

महाभारत का ये पात्र आज भी है जीवित

Updated on 3 May, 2018, 7:00
महाभारत का युद्ध समाप्त हो चुका था। पांडव पक्ष के लोग विजय की खुशी में सुख की निद्रा में लीन थे। उनकी ऐसी धारणा थी कि कौरव पक्ष का एक भी व्यक्ति शेष न रहने के कारण युद्ध समाप्त हो चुका है किंतु यह उनकी भूल थी। कौरव पक्ष का... आगे पढ़े

एक चुटकी नमक बदल देगी आपकी जिंदगी

Updated on 3 May, 2018, 6:40
नमक एक ऐसा पदार्थ है, जो न केवल भोजन का जायका बढ़ाता है बल्कि जीवन में चल रही परेशानियों को भी दूर करता है। वास्तु शास्त्र में चुटकी भर नमक से जुड़े कुछ उपाय करके मुश्किल से मुश्किल काम को आसान बनाया जा सकता है। आज अधिकतर लोगों को समस्या... आगे पढ़े

श्री कृष्ण और सुदामा की दोस्ती का प्रतीक है ये मंदिर

Updated on 2 May, 2018, 9:00
भारत में बहुत से कृष्ण मंदिर स्थापित हैं, जिनकी विभिन्न मान्यताएं हैं। इन मंदिरों में उनके साथ उनकी प्राणप्रिया राधारानी या उनकी पत्नी देवी रूकमणी के दर्शन किए जा सकते हैं। मध्य प्रदेश के उज्जैन से कुछ दूरी पर नारायण धाम मंदिर स्थित है। वहां के स्थानीय लोगों का कहना... आगे पढ़े

छोटी सी इलायची के बड़े कमाल

Updated on 2 May, 2018, 7:00
छोटी सी इलायची भोजन में सुगन्ध और स्वाद बढ़ाने के साथ-साथ स्वास्थ्य के लिए भी लाभदायक है। क्या आप जानते हैं इलायची केवल जायका बढ़ाने में ही नहीं बल्कि व्यक्ति के बंद भाग्य के भी सभी रास्ते खोलने में मदद करती है। तो आईए आज हम आपको इलायची के कुछ... आगे पढ़े

आपकी रसोई में छुपा है ग्रहों को मुट्ठी में करने का राज

Updated on 2 May, 2018, 6:40
रसोई घर में संग्रहित प्रत्येक खाद्य सामग्री अपने आप में ग्रह दोष निवारण के साथ कितनी लाभदायक एवं उपयोगी है :  नमक : ऐसा पदार्थ जिसके बिना कोई भी खाद्य पदार्थ सेवनीय नहीं। नमक में सोडियम क्लोराइड हमारी पाचन क्रिया एवं हमें हृष्ट-पुष्ट रखने में अति आवश्यक एवं सहायक तत्व है। लू... आगे पढ़े

नारद जयंती: हर युग में रहे देवों-दानवों के प्यारे

Updated on 2 May, 2018, 6:20
‘नार’ शब्द का अर्थ जल है। यह सबको जलदान, ज्ञानदान करने एवं तर्पण करने में निपुण होने की वजह से नारद कहलाए। सनकादिक ऋषियों के साथ भी नारद जी का उल्लेख आता है। भगवान सत्यनारायण की कथा में भी उनका उल्लेख है। नारद अनेक कलाओं में निपुण माने जाते हैं।... आगे पढ़े

केदारनाथ यात्रा यानी आस्‍था और प्रृकृति का अद्भुत दर्शन

Updated on 1 May, 2018, 7:00
केदारनाथ यात्रा आस्‍था और रोमांच का बेजोड़ संगम है। 29 अप्रैल, रविवार को केदारनाथ के कपाट खुल चुके हैं। अगर आप भी केदारनाथ की यात्रा पर जाने का मन बना रहे हैं तो हम आपको बता रहे हैं कुछ ऐसी काम की बातें जो आपकी यात्रा को और भी बेहतर... आगे पढ़े

वास्तुशिल्प का चमत्कार विजयदुर्ग

Updated on 1 May, 2018, 6:40
अछूते तटों और ऐतिहासिक किलों के कारण विजयदुर्ग पर्यटकों को बेहद पसंद आता है। समुद्र तटों के किनारे नारियल और आम के पेड़ एक हरे जंगल के रूप में स्थित हैं। गर्मी में आम के बाग रसदार अलफांसो आम की खुशबू से पूरे क्षेत्र को सुगंधित करते हैं। लाल लकड़ी... आगे पढ़े

बुद्ध पूर्णिमा: जब राजकुमार सिद्धार्थ बन गए 'बुद्ध'

Updated on 30 April, 2018, 12:00
बुद्ध पूर्णिमा दिवस भगवान बुद्ध की बुद्धत्व की प्राप्ति हेतु मनाया जाता है. इस दिन को बौद्ध धर्म के लोग ही नहीं, बल्कि हिंदू धर्म के लोग भी धूमधाम से मनाते हैं. दरअसल, हिंदू धर्म के अनुसार बुद्ध भगवान, भगवान विष्णु के 9वें अवतार हैं, इसलिए यह पर्व हिन्दू धर्मावलंबियों... आगे पढ़े

केदारनाथ के बाद आज खुले बद्रीनाथ धाम के कपाट, दर्शन के लिए उमड़े श्रद्धालु

Updated on 30 April, 2018, 9:00
चमौलीबद्रीनाथ उत्तराखंड में गढ़वाल के उच्च हिमालयी क्षेत्र में स्थित चारों धामों में सबसे प्रमुख बद्रीनाथ के कपाट आज सुबह श्रद्धालुओं के लिए खोल दिए गए हैं. सुबह करीब साढ़े चार बजे पट खुलने के साथ ही भक्तों ने अपने भगवान के दर्शन का सिलसिला शुरू कर दिया. जयकारों के... आगे पढ़े

भगवान बुद्ध का अस्थि कलश पहुंचा श्रीलंका, श्रद्धालु तीन दिन करेंगे दर्शन

Updated on 30 April, 2018, 7:00
वाराणसी: उत्तर प्रदेश के सारनाथ के महाबोधि मंदिर में रखा भगवान बुद्ध का अस्थि अवशेष कलश श्रीलंका भेजा गया है, जहां उनके अनुयायी एवं अन्य श्रद्धालु कल बुद्ध पूर्णिमा के अवसर पर राष्ट्रपति भवन में उसका दर्शन करेंगे। भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण विभाग के अधिकारी डॉ नीरज सक्सेना ने आज यहां... आगे पढ़े

भगवान की एेसी तस्वीर शुभ नहीं, देती है अशुभ फल

Updated on 30 April, 2018, 6:40
भगवान शिव के बहुत से रुप हैं। जिनमें उन्हें पूजा जाता है और मनवांछित वरदान प्राप्त किए जाते हैं। उनके कुछ रूप शांत सौम्य और मंगलकारी हैं तो कुछ ऐसे भी रुप हैं जो व्यग्र और विनाशकारी माने जाते हैं। ऐसे उग्र रुपों में काल भैरव और नटराज आते हैं।... आगे पढ़े

कूर्मा जयंती 2018: जानें क्यों समुद्र मंथन के लिए भगवान विष्णु को लेना पड़ा अवतार

Updated on 29 April, 2018, 12:30
कूर्मा जयंती प्रत्येक वर्ष वैशाख मास की पूर्णिमा को मनाई जाती है, इस वर्ष 29 अप्रैल को है।मान्यता है कि इसी दिन भगवान विष्णु ने कूर्मा अवतार लिया था। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार, कूर्मा अवतार को विष्णु का दूसरा अवतार माना जाता है। पद्मपुराण के ब्रह्मखंड में यह वर्णन मिलता है... आगे पढ़े

केदारनाथ के खुले कपाट, 20 क्विंटल फूलों से सजा धाम, हजारों की संख्या में पहुंचे श्रद्धालु

Updated on 29 April, 2018, 9:00
केदारनाथ उत्तराखंड स्थित केदारनाथ धाम के कपाट रविवार की सुबह श्रद्धालुओं के लिए खोल दिए गए. पुजारियों के मंत्रोच्चार और श्रद्धालुओं के जयकारे के बीच छह महीने बाद केदरानाथ के कपाट खोले गए. कपाट खुलने के बाद मंदिर में पूजा अर्चना की गई, उसके बाद भगवान शिव के दर्शन शुरू... आगे पढ़े

जानें, भगवान क्यों बने कछुआ

Updated on 29 April, 2018, 9:00
शास्त्रानुसार असुरों के राजा दैत्यराज बलि के काल में असुर, दैत्य और दानव बहुत शक्तिशाली हो गए थे क्योंकि उन्हें दैत्य गुरु शुक्राचार्य की भी महाशक्ति प्राप्त थी। देवता लोग दैत्यों की बढ़ रही शक्ति से बहुत परेशान थे। देवताओं के राजा देवराज इन्द्र भी दैत्यों का कुछ नहीं बिगाड़... आगे पढ़े

ये कटोरा बजाएं, दरिद्रता दूर भगाएं

Updated on 29 April, 2018, 7:00
सकारात्मक ऊर्जा को बढ़ावा देने के लिए भारतीय हिंदू परंपरा में बहुत सारा ऐसा सामान है, जिसे शुभता का प्रतीक मान कर घर में रखा जाता है। वैसे ही फेंगशुई का एक महत्वपूर्ण अस्त्र है सिंगिंग बाउल यानि गाने वाला कटोरा। ये सात धातुओं सोना, चांदी, टीन, सीसा, तांबा, लोहा... आगे पढ़े

सुबह सवा 6 बजे खुलेंगे केदारनाथ धाम के कपाट, 5 हजार श्रद्धालु पहुंचे

Updated on 29 April, 2018, 1:00
रुद्रप्रयाग। द्वादश ज्योतिर्लिंगों में से एक केदारनाथ धाम के कपाट खोलने की तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। इस बीच उत्साह और उल्लास के बीच बाबा केदार के जयकारों के साथ उत्सव डोली केदारनाथ धाम पहुंची। सुबह छह बजकर 15 मिनट पर धाम के कपाट श्रद्धालुओं के लिए खोल दिए जाएंगे।... आगे पढ़े

बुराई का त्याग ही ईश्वर की प्राप्ति है

Updated on 28 April, 2018, 7:00
एक बार स्वामी रामकृष्ण से एक साधक ने पूछा, ‘‘मैं हमेशा भगवान का नाम लेता रहता हूं, भजन-कीर्तन करता हूं, ध्यान लगाता हूं, फिर भी मेरे मन में कुविचार क्यों उठते हैं?’’  यह सुनकर स्वामी जी मुस्कुराए। उन्होंने साधक को समझाने के लिए एक किस्सा सुनाया। एक आदमी ने एक कुत्ता... आगे पढ़े

किस काम से घर आएंगी दैवीय शक्तियां

Updated on 28 April, 2018, 6:40
एक सुखद आशियाने की पहली पहचान है घर में बना देवालय। इसे सुख और समृद्धि के साथ परिवार में उन्नति का मूल भी माना जाता है, लेकिन अक्सर हम देवालय की घर में स्थापना को लेकर दुविधा में रहते हैं क्योंकि भूखंड में देवालय की उचित स्थिति ही हमारी उन्नति... आगे पढ़े

क्या आप भी इंद्र बनना चाहते हैं

Updated on 27 April, 2018, 9:00
आत्रेय महर्षि अत्रि के पुत्र थे। महर्षि अत्रि महाराजा पृथु से धन प्राप्त कर उसे पुत्रों को देकर स्वयं वानप्रस्थ आश्रम में चले गए। उनके पुत्र आत्रेय तपोवन में आश्रम बनाकर अपनी पत्नी के साथ तपस्वी जैसा जीवन बिता रहे थे। एक बार वह कुछ ऋषियों के साथ देवलोक की राजधानी... आगे पढ़े

इस काम से लक्ष्मी कभी नहीं छोड़ेंगी आपका साथ

Updated on 27 April, 2018, 7:00
हर घर में भगवान के लिए छोटा सा स्थान रखा जाता है, जिसे मंदिर कहा जाता है। वहां अपने इष्ट को स्थापित कर सुबह-शाम उनका विधि-विधान से पूजन किया जाता है। हिंदू धर्म में देवी-देवताओं को खुश करने के लिए बहुत सारे कर्मकांडों का सहारा लिया जाता है जैसे हवन,... आगे पढ़े

लगातार तरक्की के लिए वर्कप्लेस का वास्तु रखें सही

Updated on 27 April, 2018, 6:40
कार्यस्थल पर सकारात्मकता जरूरी है ताकि धन का आगमन होता रहे और आप तरक्की करते रहें। इसके लिए कुछ वास्तु संबंधी बातों का ध्यान रखना बेहद जरूरी है। यहां जानें, आपके वर्कप्लेस पर किस सामान को किस दिशा में होना चाहिए...  पूजा का स्थान  अगर आपके केबिन या शाप में आपने छोटा-सा... आगे पढ़े

प्रेम में धोखा मिलने पर संन्यासी बन गए थे ये शूरवीर राजा

Updated on 26 April, 2018, 7:00
उज्जैन शहर को प्राचीन काल में उज्जयिनी नाम से जाना जाता था। यह शहर सम्राट विक्रमादित्य की राजधानी था। विक्रमादित्य भारतीय इतिहास के परम प्रतापी राजाओं में से एक हैं। लेकिन इनके हाथ में राज्य की बागडोर इनके बड़े भाई भर्तहरि के सन्यास लेने के बाद आई। इनके पिता महाराजा... आगे पढ़े

कुबेर खोलेंगे धन के द्वार

Updated on 26 April, 2018, 6:40
कई बार जीवन में की गई जी तोड़ मेहनत भी रंग नहीं लाती और कदम-कदम पर असफलता बांहे पसारे इंतजार में खड़ी रहती है। नाकामयाबी का सबसे अधिक प्रभाव आर्थिक स्थिती पर पड़ता है। यदि आपको भी अपने जीवन में धन-संबंधी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है, तो इसका... आगे पढ़े

एक तस्वीर जो बदल देगी आपकी जिंदगी

Updated on 25 April, 2018, 9:00
वास्तु शास्त्रियों के अनुसार पक्षी शुभता के प्रतीक हैं। माना जाता है कि इनमें अनिष्ट करने वाले तत्वों को काबू करने की शक्तियां होती हैं, इसलिए इनकी दृष्टि को बहुत शुभ माना जाता है। घर व दुकान में पक्षियों के चित्र आदि लगाने से सफलता के मार्ग में आने वाली... आगे पढ़े

चावल के ये उपाय, दरिद्रता को कहेंगे बॉय-बाॅय

Updated on 25 April, 2018, 7:00
शास्त्रों के अनुसार जब भी कोई पूजन किया जाता है तो उसमें मुख्य रूप से गुलाल, मौली, सिंदूर, हल्दी, अबीर, अक्षत आदि प्रयोग में लाए जाते हैं। इस लेख में हम बात करेंगे अक्षत यानि चावलों की, आईए जानें पूजन सामग्री में उनका क्या महत्व है? अक्षत यानि चावल। अक्षत... आगे पढ़े

टूटते रिश्तों को बचाएंगे ये उपाय

Updated on 25 April, 2018, 6:40
आपने अक्सर बड़े-बुजुर्गों से सुना होगा कि जहां दो बर्तन एक साथ हो वे खटकते जरूर हैं। हर घर में पति-पत्नी के बीच नोक-झोंक होती रहती है। पहले संयुक्त परिवार होते थे, दंपत्ति के झगड़े उनके बेडरूम तक रहते थे। अब सिंगल फैमिली का चलन बढ़ने से सहनशक्ति में कमी... आगे पढ़े

रत्नों से बनें लकी और धनी

Updated on 24 April, 2018, 7:00
कुंडली के अनुसार रत्न धारण करना सदा लाभप्रद होता है। रत्न धारण करते समय लग्न कुंडली, ग्रहदशा, अन्तर्दशा का भी ध्यान रखना चाहिए। साधारणत: लग्न कुंडली में शुभ भावों के ग्रहों की स्थिति के अनुसार ही रत्न धारण करें। रत्नों के प्रभाव को लेकर प्राचीन समय से ही बहुत मान्यताएं... आगे पढ़े

वास्तु के अनुसार जानें कैसा हो आपके घर का पर्दा

Updated on 24 April, 2018, 6:40
हर कोई चाहता है उसका घर सबसे अलग और अच्छा दिखे। इसके लिए उसके घर की सजावट और इंटीरियर में दीवारों के रंग और पर्दों की अहम भूमिका है। अपने घर को दूसरों से अच्छा दिखाने के लिए अलग-अलग रंग के पर्दे घर को खूबसूरत तो बनाते ही हैं, घर... आगे पढ़े