Sunday, 15 December 2019, 5:14 PM

तीज एवं त्यौहार

निर्जला व्रत रखकर महिलाएं मनाएगी करवाचौथ 

Updated on 16 October, 2019, 6:15
भोपाल । करवा चौथ का व्रत आगामी 17 अक्टूबर को रखा जाएगा। पति-पत्नी के बीच प्रेम का प्रतीक पर्व करवा चौथ पर घर-घर में पति की देव के रूप में पूजा होगी। सुबह से ही महिलाएं निराहार व्रत रखेंगी। शाम को व्रतीधारी महिलाएं सुहाग की रक्षा के लिए चांद की... आगे पढ़े

दीपावली 2019 : 5 दिवसीय त्योहार के 5 उपाय, धन की तंगी है तो जरूर आजमाएं

Updated on 14 October, 2019, 6:45
ऋण मुक्ति के आसान टिप्स दिवाली, दीपावली के 5 दिन धन के संकट दूर करने के लिए सबसे शुभ माने गए हैं। शास्त्रानुसार व्यक्ति यदि अपने मूल कर्ज से निवृत्ति का उपाय नहीं करता है, तो उसे इस जीवन में अर्थ, उपकार, दया के रूप में किसी भी तरह का उधार... आगे पढ़े

Diwali पर क्यों चढ़ाते हैं मां लक्ष्मी को खील-बताशे... कौन सा ग्रह होता है खुश इस प्रसाद से

Updated on 14 October, 2019, 6:30
मां लक्ष्मी को दीपावली पर खील-बताशे का प्रसाद जरूर चढ़ाया जाता है। दिवाली पर लोग पूजन सामग्री में खील-बताशे जरूर खरीदते हैं। लक्ष्मी पूजा में खील-बताशे अवश्य रखे जाते हैं। क्या आप जानते हैं कि माता लक्ष्मी की पूजा खील बताशों से ही क्यों की जाती है? क्यों चढ़ाते हैं खील-बताशे... आगे पढ़े

करवा चौथ 17 अक्टूबर 2019 को, इन 7 गणेश मंत्रों से मिलेगा अखंड सौभाग्य का शुभ वरदान

Updated on 14 October, 2019, 6:15
करवा चौथ या करक चतुर्थी विशेषकर स्‍त्रियों का सुहाग पर्व है। इस व्रत को करने से सौभाग्य की वृद्धि होती है। इस बार यह पर्व 17 अक्टूबर 2019 को आ रहा है। आइए जानें इस दिन क्या करें। प्रात:काल स्नानादि से निवृत्त होकर वस्त्राभूषण से सज्जित होकर श्री गणेशजी का पूजन... आगे पढ़े

शरद पूर्णिमा:  अमृत की बरसात 

Updated on 13 October, 2019, 6:30
पुराणों में वर्णित है कि शरद पूर्णिमा को रात बारह बजे चन्द्रमा से अमृत बरसता है। इतना ही नहीं धन-धान्य की देवी समृद्धि एवं श्रीभंडार भरने के लिए रात्रि भ्रमण पर निकलती है। ऐसा माना जाता है कि गाय के दूध से बनी खीर को छत पर रात्रि में रख... आगे पढ़े

महर्षि वाल्मीकि: खगोल और ज्योतिष के प्रकांड पंडित

Updated on 13 October, 2019, 6:15
आश्विन माह में शरद पूर्णिमा के दिन महर्षि वाल्मीकि का जन्म हुआ था। वाल्मीकि वैदिक काल के महान गुरु, यथार्थवादी और चतुर्दशी ऋषि हैं। महर्षि वाल्मीकि को कई भाषाओं का ज्ञान था। संसार का पहला महाकाव्य रामायण लिखकर आदि कवि होने का गौरव पाया। वाल्मीकि ने कठोर तप के पश्चात... आगे पढ़े

शरद पूर्णिमा-शरद ऋतु का पर्व 

Updated on 12 October, 2019, 6:45
शुभ्र ज्योत्सना खेलती,पुलकित होती रात। रास रचायें कृष्ण तब,हो अमरत बरसात।। शरद पूर्णिमा, जिसे कोजागरी पूर्णिमा या रास पूर्णिमा भी कहते हैं; हिन्दू पंचांग के अनुसार आश्विन मास की पूर्णिमा को कहते हैं। ज्‍योतिष के अनुसार, पूरे साल में केवल इसी दिन चन्द्रमा सोलह कलाओं से परिपूर्ण होता है।हिन्दू धर्म में इस... आगे पढ़े

क्यों मनाया जाता है करवा चौथ?

Updated on 12 October, 2019, 6:15
करवा चौथ विशेष तौर पर नारियों का त्योहार है। हिन्दू धर्म में नारी शक्ति को शक्ति का रूप माना जाता है। कहते हैं कि नारी को यह वरदान है कि वो जिस भी कार्य या मनोकामना के लिए तप या व्रत करेगी तो उसका फल उसे अवश्य मिलेगा। खासकर अपने... आगे पढ़े

अनंत शक्तियों का स्वामी हैं हमारा मन

Updated on 12 October, 2019, 6:00
हमें यह बात हमेशा ध्यान में रखना चाहिए कि मन का परमात्मा के साथ घनिष्ठ संबंध है। मन और ब्रह्म दो भिन्न वस्तुएं नहीं हैं। ब्रह्म ही मन का आकार धारण करता है। अत: मन अनंत और अपार शक्तियों का स्वामी है। मन स्वयं पुरुष है एवं जगत का रचयिता... आगे पढ़े

करवा चौथ व्रत 2019 : पूजन विधि मिलेगी आपको यहां, जानिए कैसे करें व्रत

Updated on 11 October, 2019, 6:45
इस साल करवा चौथ का व्रत 17 अक्टूबर 2019, गुरुवार को मनाया जा रहा है। सुहागिन या पतिव्रता स्त्रियों के लिए करवा चौथ बहुत ही महत्वपूर्ण व्रत है। हिन्दू सनातन पद्धति में करवा चौथ सुहागिनों का महत्वपूर्ण त्योहार माना गया है। इस पर्व पर महिलाएं हाथों में मेहंदी रचाकर, चूड़ी पहन... आगे पढ़े

शरद पूर्णिमा के दिन करें ये खास 5 ज्योतिषीय उपाय, खुल जाएंगे आपके भाग्य

Updated on 11 October, 2019, 6:30
शरद पूर्णिमा के दिन ये 5 खास ज्योतिषीय उपाय करने से मिलेगा आपको सुकून। खासकर यदि आपकी कुंडली में राहू के संयोग से किसी भी भाव में चंद्रग्रहण है तो वह हट जाएगा और बंद भाग्य खुल जाएगा। 1.इस दिन किसी भी प्रकार की तामसिक वस्तुओं का सेवन नहीं करना चाहिए।... आगे पढ़े

Karwa Chauth Pujan सामग्री की List में अवश्‍य होना चाहिए ये 36 चीजें

Updated on 11 October, 2019, 6:15
पति के प्रति प्रेम की आत्मिक अभिव्यक्ति के लिए किया जाने वाला करवा चौथ का व्रत पिया की दीर्घायु के लिए किया जाता है। अन्न जल का त्याग कर व्रत रखकर, रात्रि समय में चांद को अर्ध्य देकर यह व्रत पूर्ण होता है। इस व्रत का सबसे अहम और दिलचस्प... आगे पढ़े

शरद पूर्णिमा का है विशेष महत्व  

Updated on 10 October, 2019, 6:00
हिंदू शास्त्र के अनुसार सभी पूर्णिमाओं में आश्विन मास की पूर्णिमा का विशेष महत्व होता है। इस पूर्णिमा को शरद पूर्णिमा कहते हैं। इस बार 13 अक्टूबर को शरद पूर्णिमा है। ऐसी मान्यता है कि इस रात को चंद्रमा अपनी पूरी सोलह कलाओं के प्रदर्शन करते हुए दिखाई देता है।... आगे पढ़े

पापांकुशा एकादशी का व्रत और भगवान विष्णु की पूजा से खत्म हो जाते हैं हर तरह के पाप

Updated on 9 October, 2019, 6:15
 हिंदू पंचांग के अनुसार, आश्विन मास के शुक्ल पक्ष की एकादशी को पापांकुशा एकादशी कहते हैं। इस एकादशी पर मनोवांछित फल की प्राप्ति के लिए भगवान विष्णु की पूजा की जाती है। इस बार यह एकादशी 9 अक्टूबर, बुधवार को है। धर्म ग्रंथों के अनुसार, जो मनुष्य कठिन तपस्याओं के... आगे पढ़े

पापांकुशा एकादशी 2019: इस दिन हुआ था राम-भरत मिलाप, जानिए महत्व और पूजनविधि

Updated on 9 October, 2019, 6:00
हिंदू धर्म में माह की एकादशी तिथि को बहुत ही पवित्र माना गया है। आश्विन माह में नवरात्र और दशहरा पर्व के बाद एकादशी तिथि पड़ती है। आश्विन मास के शुक्ल पक्ष की एकादशी को पापांकुशा एकादशी कहा जाता है। इस बार यह एकादशी 9 अक्टूबर बुधवार को है। पापांकुशा... आगे पढ़े

हर्ष और उल्लास का प्रतीक है दशहरा

Updated on 8 October, 2019, 6:15
दशहरा अथवा विजयदशमी भगवान राम की विजय के रूप में मनाया जाए अथवा दुर्गा पूजा के रूप में, दोनों ही रूपों में यह शक्ति-पूजा का पर्व है, शस्त्र पूजन की तिथि है। हर्ष और उल्लास तथा विजय का पर्व है। भारतीय संस्कृति वीरता की पूजक है, शौर्य की उपासक है।... आगे पढ़े

नवरात्रि पर्व का नवां दिवस- सिद्धिदात्री  

Updated on 7 October, 2019, 6:30
सिद्धगन्धर्वयक्षाद्यैरसुरैरमरैरपि।  सेव्यमाना सदा भूयात सिद्धिदा सिद्धिदायिनी।।  माँ दुर्गा जी की नवीं शक्ति का नाम सिद्धिदात्री है। ये सभी प्रकार की सिद्धियों को देने वाली हैं। मार्पण्डेयपुराण के अनुसार अणिमा, महिमा, गरिमा, लघिमा, प्राप्ति, प्राकाम्य, ईशित्व और वशित्व-ये आठ सिद्धियां होती हैं। ब्रह्मवैवर्त्तपुराण के श्रीकृष्ण जन्म खण्ड में यह संख्या अट्ठारह बतायी गयी... आगे पढ़े

दुर्गा के नौ स्वरुपों की पूजा होती है नवरात्रि में 

Updated on 7 October, 2019, 6:00
भारतीय जन-जीवन में धर्म की महत्ता अपरम्पार है। यह भारत की गंगा-जमुना तहजीब का ही नतीजा है कि सब धर्मों को मानने वाले लोग अपने-अपने धर्म को मानते हुए इस देश में भाईचारे की भावना के साथ सदियों से एक साथ रहते चले आ रहे हैं। यही कारण है की... आगे पढ़े

नवरातों का संदेश

Updated on 6 October, 2019, 6:30
नवरातें कहती हैं मुझसे, नारी का सम्मान हो बेटे से कम नहीं है बेटी, बेटी पर अभिमान हो । नारी किंचित नहीं है दुर्बल, सचमुच वह बलवान है नारी से ही रौनक घर की, नारी से ही आन है नारी को तो पूजा जाये, पूरा हर अरमान हो बेटे से कम नहीं है बेटी, बेटी पर अभिमान हो । नारी से ही... आगे पढ़े

नवरात्रि पर्व का आठवां दिवस- महागौरी 

Updated on 6 October, 2019, 6:00
श्वेते वृषे समारूढ़ा श्वेताम्बारधरा शुचि:।  महागौरी शुभं दद्यान्हादेवप्रमोददा।।  माँ दुर्गा जी की आठवीं शक्ति का नाम महागौरी है। इनका वर्णपूर्णत: गौर है। इस गौरता की उपमा शखं, चन्द्र और कुन्दके फूल से दी गयी है। इनकी आयु आठ वर्षकी मानी गयी है-‘अष्टवर्षा भवेद् गौरी’ इनके समस्त वस्त्र एवं आभूषण आदि भी श्वेत... आगे पढ़े

नवरात्रि पर्व का सातवां दिवस-कालरात्रि

Updated on 5 October, 2019, 6:15
एकवेणी जपाकर्णपूरा नग्ना खरास्थिता।  लम्बोष्ठ कर्णिकाकर्णी तैलाभ्याक्तशरीरिणी।।  वामपदाल्लसल्लोहलताकण्टकभूषणा।  वर्धनमूर्धध्वजा कृष्ण कालिरात्रिर्भयकंरी।।  माँ दुर्गा की सातवीं शक्ति कालरात्रि के नाम से जानी जाती हैं। इनके शरीर का रंग घने अन्धकार की तरह एकदम काला हैं। सिर के बाल बिखरे हुए हैं। गले में विद्युत की तरह चमकने वाली माला हैं। इनके तीन नेत्र हैं। ये... आगे पढ़े

नवरात्रि पर्व का छठवां दिवस- कात्यायनी

Updated on 4 October, 2019, 6:30
चन्द्रहासोज्ज्वलकरा शार्दूलवरवाहना।  कात्यायनी शुभं दद्याद्देवी दानवघातिनी।।  माँ दुर्गा के छठवें स्वरूप का नाम कात्यायनी है। इनका कात्यायनी नाम पड़ने की कथा इस प्रकार है- कत नामक एक प्रसिद्ध महर्षि थे। उनके पुत्र ऋषि कात्य हुए। इन्हीं कात्य के गोत्र में विश्व प्रसिद्ध महर्षि कात्यायन उत्पन्न हुए थे। इन्होंने भगवती पराम्बा की उपासना... आगे पढ़े

आज नवरात्र का 5वां दिन, स्‍कंदमाता पूजा विधि और व्रत का लाभ जानें

Updated on 3 October, 2019, 12:04
3 अक्टूबर, आज मां दुर्गा की उपासना के पर्व नवरात्र का पांचवां दिन है और इस दिन स्‍कंदमाता की पूजा, आराधना का विधान है। स्‍कंदमाता ममता की मूर्ति प्रेम और वात्‍सल्‍य की प्रतीक साक्षात दुर्गा का स्‍वरूप हैं। मां के 5वें स्‍वरूप को यह नाम भगवान कार्तिकेय से मिला है।... आगे पढ़े

विजदशमी पर होती है शस्त्रों की पूजा  

Updated on 3 October, 2019, 6:30
शारदीय नवरात्रि के दशवें दिन यानी आश्विन मास की शुक्ल पक्ष की दशमी को दशहरे का पर्व मनाया मनाया जाता है। इस बार दशहरा या विजयादशमी का पर्व मंगलवार 08 अक्टूबर को मनाया जाएगा। पौराणिक कथाओं के अनुसार, दशहरे के दिन ही भगवान राम ने लंका नरेश रावण का वध... आगे पढ़े

नवरात्रि पर्व का चौथा दिवस- कुष्माण्डा 

Updated on 2 October, 2019, 6:15
सुरासम्पूर्णकलशं रूधिराप्लुतमेव च।  दधाना हस्तपद्माभ्यां कूष्माण्डा शुभदास्तु मे।।  माँ दुर्गा जी के चौथे स्वरूप का नाम कुष्माण्डा है। अपनी मन्द, हल्की हँसी द्वारा अण्ड अर्थात् ब्रह्माण्ड को उत्पन्न करने के कारण इन्हें कुष्माण्डा देवी के नाम से अभिहित किया गया है। जब सृष्टि का अस्तित्व नहीं था, चारों ओर अन्धकार ही अन्धकार... आगे पढ़े

नवरात्रि का तीसरा दिन- चन्द्रघण्टा  

Updated on 1 October, 2019, 6:15
पिण्डजप्रवरारूढ़ा चण्डकोपास्त्राकैर्युता।  प्रसादं तने महां चन्द्रघण्टेति विश्रुता।।  माँ दुर्गा जी की तीसरी शक्ति का नाम ‘चन्द्रघण्टा’ है। नवरात्रि उपासना में तीसरे दिन इन्हीं के विग्रह का पूजन-आराधना किया जाता है। इनका यह स्वरूप परम शांतिदायक और कल्याणकारी है। इनके मस्तक में घण्टे के आकार का अर्धचन्द्र हैं, इसी कारण से इन्हें चन्द्रघण्टा... आगे पढ़े

 दूसरा दिन- ब्रह्मचारिणी

Updated on 30 September, 2019, 6:45
दधाना करपद्माभ्यामक्षमालाकमण्डल।  देवी प्रसीदतु कयि ब्रह्मचारिण्यनुत्तमा।।  माँ दुर्गा की नव शक्तियें का दूसरा स्वरूप ब्रह्मचारिणी का है। यहाँ ‘ब्रह्म’ शब्द का अर्थ तपस्या है। ब्रह्मचारिणी अर्थात तपकी चारिणी-तप का आचरण करने वाली कहा भी है- वेदस्यतत्त्वंतपो ब्रह्म-वेद, तत्त्व और तप ‘ब्रह्म’ शब्द के अर्थ हैं। ब्रह्मचारिणी देवी का स्वरूप पूर्ण ज्योतिर्मय एवं... आगे पढ़े

आज से शारदीय नवरात्र प्रारंभ, पढ़ें कलश स्थापित करने का शुभ मुहूर्त

Updated on 29 September, 2019, 9:10
नई दिल्लीः मां दुर्गा की आराधना का पर्व शारदीय नवरात्र की शुरुआत आज से हो चुकी है. इस बार मां दुर्गा हाथी पर सवार होकर आएंगी. भक्तों की आस्था है कि बार किसी तिथि की हानि नहीं है. लिहाजा नवरात्र 9 दिन के होंगे. 29 सितंबर को सर्वार्थ सिद्धि योग,... आगे पढ़े

नवरात्री पर्व का प्रथम दिन-शैलपुत्री  

Updated on 29 September, 2019, 6:15
वन्दे वाञ्छितलाभय चन्द्रार्धकृत शेखराम् ।  वृषारूढां शूलधरां शैलपुत्री यशस्विनीम् ।।  मां दुर्गा अपने पहले स्वरूप में ‘शैलपुत्री’ के नाम से जानी जाती है। पर्वतराज हिमालय के यहां पुत्री के रूप में उत्पन्न होने के कारण इनका यह ‘शैलपुत्री’ नाम पड़ा था। वृषभ-स्थिता इन माताजी के दाहिने हाथ में त्रिशुल और बाये हाथ... आगे पढ़े

अश्विन माह ओर उसका महत्व 

Updated on 26 September, 2019, 6:45
सनातन मान्यता के अनुसार वर्ष का सातवां महीना अश्विन माह होता है। यह महीना देव और पितृ दोनों के लिए महत्वपूर्ण माना जाता है। इस महीने से सूर्य धीरे-धीरे कमजोर होने लगते हैं। शनि और तमस का प्रभाव बढ़ता जाता है। इस महीने में भी शुभ कार्य करने की मनाही... आगे पढ़े