Saturday, 17 November 2018, 6:19 AM

मेरी कलम

सबके अपने अपने राम

Updated on 5 November, 2018, 9:15
/शंभूनाथ बारहवीं शताब्दी में लिखी गई रामायण को एशिया का महाकाव्य (एपिक ऑफ़ एशिया) कहा जाता है। एशिया में सभी जगह राम कथा मिलती है। होबुत्सुशु नामक ग्रन्थ में रामायण की कथा जापानी में उपलब्ध है, लेकिन ऐसे प्रकरण भी हैं, जिनसे कहा जा सकता है कि जापानी इससे पूर्व भी... आगे पढ़े