नई दिल्ली।युवा तेज गेंदबाज कार्तिक त्यागी ने आखिरी ओवर में सिर्फ एक रन दिया, जिससे राजस्थान रॉयल्स ने मंगलवार को रोमांच मैच में पंजाब किंग्स को दो रन से हरा दिया।

आखिरी ओवर में पंजाब को जीत के लिए चार रन चाहिए थे। त्यागी की पहली तीन गेंद में सिर्फ एक रन बना, जबकि निकोलस पूरन ने विकेटकीपर संजू सैमसन को कैच थमा दिया। दीपक हुड्डा ने अगली गेंद खाली खेलीं और फिर सैमसन को कैच थमा गए। आखिरी गेंद पर जीत के लिए रॉयल्स को तीन रन की जरूरत थी, लेकिन फाबियन एलेन कोई रन ही नहीं बना सके। इस तरह रॉयल्स के 186 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए पंजाब किंग्स मयंक अग्रवाल और कप्तान लोकेश राहुल के बीच पहले विकेट की 120 रन की साझेदारी के बावजूद चार विकेट पर 183 रन ही बना सकी।

पूरन और ऐडन मार्करम ने तीसरे विकेट के लिए 57 रन जोड़कर पंजाब को जीत की दहलीज पर ले गए, लेकिन जीत नहीं दिला सके। रॉयल्स ने युवा बल्लेबाजों यशस्वी जायसवाल (36 गेंद में 49 रन, दो छक्के, छह चौके) और महिपाल लोमरोर (17 गेंद में 43 रन, चार छक्के, दो चौके) की तेजतर्रार पारियों की बदौलत 20 ओवर में 185 रन बनाए थे। रॉयल्स की टीम एक समय 200 से ऊपर का स्कोर खड़ा करने की स्थिति में दिख रही थी, लेकिन करियर की बेस्ट बॉलिंग करने वाले अर्शदीप सिंह (32 रन पर पांच विकेट) और मोहम्मद शमी (21 रन पर तीन विकेट) ने डैथ ओवरों में पंजाब किंग्स को शानदार वापसी दिलाई। रॉयल्स की टीम अंतिम चार ओवर में 21 रन ही बना सकी। रॉयल्स ने अंतिम छह विकेट सिर्फ 19 रन जोड़कर गंवाए।

लक्ष्य का पीछा करते हुए पंजाब की शुरुआत धीमी रही। लोकेश राहुल चेतन सकारिया के दूसरे ओवर में भाग्यशाली रहे, जब प्वॉइंट पर लुईस ने उनका कैच टपका दिया। राहुल ने तीसरे ओवर में कार्तिक त्यागी पर पारी का पहला चौका जड़ा। पहले तीन ओवर में सिर्फ 16 रन बने। राहुल ने चौथे ओवर में सकारिया पर दो छक्के और एक चौके से 19 रन जुटाए। राहुल को हालांकि मौरिस के अगले ओवर में रियान पराग ने मिड ऑन पर एक और जीवनदान दिया। मुस्तफिजुर के अगले ओवर में सकारिया ने राहुल को तीसरा जीवनदान दिया। पंजाब की टीम पावरप्ले में बिना विकेट खोए 49 रन बनाने में सफल रही।

अग्रवाल ने इसके बाद तेवर दिखाते हुए त्यागी पर लगातार तीन चौके मारे और फिर मौरिस पर दो छक्के के साथ 34 गेंद में फिफ्टी पूरा की। मौरिस के इसी ओवर में चौके के साथ राहुल ने टीम का स्कोर 100 रन के पार पहुंचाया। पारी के 10वें ओवर में 25 रन बने। सकारिया जब दूसरे स्पैल के लिए लौटे तो राहुल ने उन पर चौका जड़ा लेकिन इसी ओवर में त्यागी को कैच दे बैठे। उन्होंने 33 गेंद का सामना करते हुए चार चौके और दो छक्के मारे। अग्रवाल भी अगले ओवर में राहुल तेवतिया की गेंद पर लियाम लिविंस्टोन को कैच दे बैठे। पंजाब को अंतिम पांच ओवर में जीत के लिए 38 रन की दरकार थी। मौरिस के 16वें ओवर में सिर्फ छह रन बने। निकोलस पूरन ने मुस्ताफिजुर पर चौके और छक्के के साथ गेंद और रन के बीच के अंतर को कम किया।

इससे पहले जायसवाल ने इविन लुईस (36) के साथ पहले विकेट के लिए 54 और लियाम लिविंगस्टोन (25) के साथ तीसरे विकेट के लिए 48 रन की साझेदारी करके रॉयसल्स को अच्छी शुरुआत दिलाई। जायसवाल ने मोहम्मद शमी पर लगातार दो चौकों के साथ खाता खोला जबकि लुईस ने आईपीएल में डेब्यू कर रहे तेज गेंदबाज इशान पोरेल पर छक्का जड़ा। लुईस ने पोरेल के अगले ओवर में चार चौके जड़कर आक्रामक तेवर दिखाए। लुईस ने दीपक हुड्डा का स्वागत भी लगातार दो चौकों के साथ किया। लोकेश राहुल ने छठे ओवर में गेंद अर्शदीप को थमाई और उन्होंने लुईस एक्सट्रा कवर पर अग्रवाल के हाथों कैच करा दिया। पावर प्ले में रॉयल्स ने एक विकेट पर 57 रन बनाए।

जायसवाल ने लेग स्पिनर आदिल राशिद के पहले ही ओवर में चौका और छक्का मारा लेकिन कप्तान संजू सैमसन (04) पोरेल की गेंद पर विकेटकीपर राहुल को कैच दे बैठे। जायसवाल ने 11वें ओवर में हरप्रीत बरार पर चौके के साथ टीम के रनों का शतक पूरा किया। लिविंगस्टोन ने अर्शदीप पर चौका और छक्का जड़ा लेकिन इसी तेज गेंदबाज की गेंद पर फाबियन एलेन को कैच दे बैठे। लोमरोर ने आते ही राशिद पर लगातार दो छक्के जड़े लेकिन जायसवाल बरार की गेंद पर अग्रवाल को कैच दे बैठे। उन्होंने 36 गेंद का सामना करते हुए दो छक्के और छह चौके मारे।

Spread the love

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here