Iमुंबईकंगना रनौत ने ट्वीट कर शिवसेना सांसद पर जमकर निशाना साधा, बॉलीवुड अभिनेत्री ने लिखा कि, ”वाह!! यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि बीजेपी ड्रग माफिया रैकेट का भंडाफोड़ करने वाले किसी व्यक्ति की रक्षा कर रही है। बीजेपी को इसके बजाय शिवसेना के गुंडों को मेरा चेहरे को तोड़ने देना चाहिए..रेप करने देना चाहिए या खुलेआम मुझे पीटने देना चाहिए.. न संजय राउत जी? वो एक ऐसी युवती की रक्षा कैसे कर रहे हैं जो माफिया के खिलाफ खड़ी है !

संजय राउत ने शिवसेना के मुखपत्र सामना में अपने कॉलम रोकठोक में दावा किया है कि ‘मुंबई के महत्व को कम करने के लिए एक व्यवस्थित प्रयास है, और शहर को लगातार बदनाम करना साजिश का हिस्सा है।’

संजय राउत ने भाजपा को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि भाजपा सुशांत सिंह राजपूत मामले में अपने समर्थन के माध्यम से बिहार में उच्च जाति राजपूत और क्षत्रियों को वोर प्राप्त करना चाहती है। राउत ने आगे कहा, ‘ऐसा करते समय, यह मायने नहीं रखता कि महाराष्ट्र का अपमान किया गया है। महाराष्ट्र (भाजपा) का कोई भी नेता इस बात से दुखी नहीं है कि राज्य को किस तरह अपमानित किया गया है।’

बिहार में उद्धव और राउत के खिलाफ केस दर्ज

बिहार में महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे और शिवसेना के मुख्य प्रवक्ता संजय राउत के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया गया है। दरअसल ये मुकदमा सामाजिक कार्यकर्ता एम राजू नैयर ने मुज़फ़्फ़रपुर में स्थित सीजेएम कोर्ट में दर्ज कराया है। कोर्ट में दायर याचिका में उन्होंने कहा कि सीएम उद्धव ठाकरे और सांसद संजय राउत के ‘इशारों’ पर अभिनेत्री कंगना रनौत के दफ्तर को तोड़ दिया गया है, जोकि पूरी तरह से ‘गैर कानूनी’ है। अर्जी में आरोप लगाया गया है कि कंगना सुशांत के हत्यारों को पकड़ने की मांग लगातार कर रही थी। इसलिए सरकार ने आवाज़ को दबाने के लिए यह ‘कार्रवाई’ की है। आपको बता दें कि बीएमसी ने कंगना रनौत की गैर मौजूदगी में उनके ऑफिस में ‘अवैध निर्माण’ बताकर तोड़ फोड़ की थी।

Spread the love

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here