कोटा। कोटा जिले की सीमा के आखिरी क्षेत्र खातौली क्षेत्र के गोठड़ा गांव में बुधवार सुबह एक नाव चम्बल नदी में डूब गई। इसमें करीब 30 लोग सवार बताए जा रहे हैं। इसमें से 5 के शव मिल गए हैं, जबकि करीब 10 लोग लापता हैं। नाव में 14 बाइक भी नदी पार करवाने के लिए रखीं गई थीं। मौके पर सैकड़ों की संख्या में ग्रामीण मौके पर है। लोगों की तलाश युद्ध स्तर पर जारी है। 

Chambal River

वहां मौके पर मौजूद लोग ग्रामीणों ने डूब रहे लोगों को बचाने की कोशिश की, लेकिन  नदी के तेज बहाव के कारण बड़ी संख्या में लोग बह गए। गोठला कला के पास कमलेश्वर धाम जाने के लिए ज्यादातर लोग नाव में सवार हुए थे। घटना का पता चलते ही पुलिस और प्रशासन मौके पर पहुंचा।

Chambal River

सूत्रों के मुताबिक, कमलेश्वर धाम जाने के लिए कुछ लोग नाव में बैठकर चंबल नदी पार कर रहे थे। नाव में क्षमता से अधिक लोग बैठने और बाइक रखी होने के चलते नदी के बीच में नाव असंतुलित होकर पलट गई। जहां नाव पलटी वह चाणदा व गोठड़ा गांव के बीच का क्षेत्र है। मौके पर पहुंच गोताखोर की टीम ने सर्चिंग ऑपरेशन शुरू किया गया है।

Chambal River

लोकसभा अध्यक्ष ने जिला प्रशासन से ली घटना की जानकारी 

घटना की जानकारी मिलते ही कोटा के सांसद और लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला ने प्रशासन से जानकारी ली। लोकसभा सचिवालय ने जिला प्रशासन से साधा संपर्क। कोटा से एसडीआरएफ की टीम मौके के लिए रवाना कर दी गई है। लोकसभा अध्यक्ष कार्यालय जिला प्रशासन से लगातार संपर्क बनाए हुए हैं।

Spread the love

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here