मैनचेस्टर में तीसरा मैच शाम 5.30 बजे

मैनचेस्टर। इंग्लैंड-ऑस्ट्रेलिया के बीच तीन वनडे सीरीज का आखिरी और निर्णायक मैच मंगलवार को मैनचेस्टर के ओल्ड ट्रैफर्ड मैदान पर खेला जाएगा। फिलहाल, सीरीज 1-1 से बराबरी पर है। यदि ऑस्ट्रेलिया टीम मैच जीतती है, तो वह इंग्लैंड को 5 साल बाद उसी के घर में सीरीज हराएगी। इससे पहले ऑस्ट्रेलिया ने 2015 में इंग्लिश टीम को उसी के घर में 3-2 वनडे सीरीज में हराया था।वहीं, इंग्लैंड के पास मुकाबला जीतकर ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ लगातार तीसरी सीरीज जीतने का मौका है। इससे पहले इंग्लिश टीम ने 2018 में ऑस्ट्रेलिया को लगातार दो वनडे सीरीज हराई थी।

मौजूदा सीरीज 1-1 से बराबर
सीरीज के पहले मैच में ऑस्ट्रेलिया ने 19 रन से जीत दर्ज की थी। दूसरा मैच जीतकर उसके पास सीरीज अपने नाम करने का मौका था, लेकिन इंग्लिश टीम ने शानदार वापसी की। दूसरे मैच में इंग्लैंड ने ऑस्ट्रेलिया को 24 रन से हराकर सीरीज 1-1 से बराबर कर दी।

स्टीव स्मिथ इस मैच से वापसी करेंगे
पहले वनडे से पहले ऑस्ट्रेलियाई पूर्व कप्तान स्टीव स्मिथ के सिर में प्रैक्टिस के दौरान बॉल लग गई थी। इस वजह से वे पहला मैच नहीं खेल सके थे। इसके बाद उन्होंने दो कन्कशन टेस्ट पास किए, लेकिन मैनेजमेंट ने एहतियात के तौर पर उन्हें दूसरा वनडे भी नहीं खिलाया था। अब उम्मीद जताई जा रही है कि वे इस करो या मरो के मुकाबले में खेल सकते हैं।

ऑस्ट्रेलिया ने 151 में से 83 वनडे जीते
ऑस्ट्रेलिया-इंग्लैंड के बीच अब तक 151 वनडे हुए। इनमें से ऑस्ट्रेलिया ने 83 जीते और 63 मैच हारे हैं। 2 मैच टाई और 3 बेनतीजा रहे हैं। वहीं, इंग्लैंड के घर में दोनों के बीच 72 मुकाबले हुए, जिनमें 32 ऑस्ट्रेलिया ने जीते और 36 वनडे हारे हैं। 2-2 मैच टाई और बेनतीजा रहे हैं।

ओवरऑल वनडे सीरीज में ऑस्ट्रेलिया भारी
ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बीच अब तक 22 सीरीज हुई है, जिसमें ऑस्ट्रेलिया ने 12 और इंग्लैंड ने 10 जीती है। वहीं, दोनों टीमों के बीच इंग्लैंड में 15 सीरीज हुईं। इसमें मेजबान टीम ने 8 और ऑस्ट्रेलिया ने 7 सीरीज जीती हैं।

पिच और मौसम रिपोर्ट: मैनचेस्टर में मैच के दौरान बादल छाए रहेंगे। तापमान 9 से 19 डिग्री सेल्सियस के बीच रहने की संभावना है। पिच से बल्लेबाजों को मदद मिल सकती है। टॉस जीतने वाली टीम पहले गेंदबाजी करना पसंद करेगी।

दोनों टीमें
इंग्लैंड: इयोन मोर्गन (कप्तान), मोइन अली, जोफ्रा आर्चर, जॉनी बेयरेस्टो, टॉम बैंटन, सैम बिलिंग्स, जोस बटलर, सैम कुरन, टॉम कुरन, आदिल रशीद, जो रूट, जेसन रॉय, क्रिस वोक्स और मार्क वुड।
रिजर्व खिलाड़ी: साकिब महमूद, डेविड मलान और फिल साल्ट।

ऑस्ट्रेलिया: एरॉन फिंच (कप्तान), स्टीव स्मिथ, सीन एबॉट, एश्टन एगर, एलेक्स कैरी, पैट कमिंस (उपकप्तान), जोश हेजलवुड, मार्नस लाबुशाने, नाथन लियोन, मिशेल मार्श, ग्लेन मैक्सवेल, रिले मेरेडिथ, जोश फिलिप, डैनियल सैम्स, केन रिचर्डसन, मिशेल स्टार्क, मार्कस स्टोइनिस, एंड्रयू टाय, मैथ्यू वेड, डेविड वार्नर।

Spread the love

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here