• यह मैच महेंद्र सिंह धोनी के लिए बेहद निराशाजनक रहा आज करो या मरो के मुकाबले में उतरी टीम को टूर्नामेंट के इतिहास की सबसे बड़ी हार मिली।
  • अब तक किसी भी टीम ने चेन्नई को 10 विकेट के अंतर से नहीं हराया था।

नई दिल्ली। चेन्नई सुपर किंग्स के लिए आईपीएलका 13वां सीजन किसी बुरे सपने की तरह साबित हुआ। शुक्रवार को हुए मुकाबले में चेन्नई की टीम मुंबई के खिलाफ महज 114 रन ही बना पाई। टीम को 3 रन के स्कोर पर 4 झटके लग चुके थे और पावरप्ले में टीम महज 24 रन ही बना पाई। मुंबई ने इशान किशन के आतिशी अर्धशतक के दम पर 12.2 ओवर में लक्ष्य हासिल कर 10 विकेट से जीत दर्ज की।

यह मैच महेंद्र सिंह धोनी के लिए बेहद निराशाजनक रहा आज करो या मरो के मुकाबले में उतरी टीम को टूर्नामेंट के इतिहास की सबसे बड़ी हार मिली। अब तक किसी भी टीम ने चेन्नई को 10 विकेट के अंतर से नहीं हराया था। मैच के बाद कप्तान धौनी बेहद भावुक नजर आए टीम के प्रदर्शन पर बात करते हुए उन्होंने निराशा जाहिर की साथ ही कहा कि वो कप्तान हैं और वो भाग नहीं सकते तो अगला मैच भी खेलेंगे।

मैच के बाद टीम को चोट पहुंची है

मैच के बाद धोनी ने कहा, यह वाकई बहुत चोट पहुंचाएगी। अब जो देखने की जरूरत है कि आखिर गलत क्या हुआ, यह साल हमारा बिल्कुल भी नहीं रहा। सिर्फ एक या दो मैच में ही हम अच्छे से बल्लेबाजी और गेंदबाजी कर पाए। आप 10 विकेट से हारे या 8 विकेट से यह शायद ही मायने रखता है। सभी खिलाड़ी दुखी हैं लेकिन वो अपना सर्वश्रेष्ठ देने की कोशिश कर रहे हैं। यह हमेशा आपके हक में नहीं जाता है।

“अगले साल हमें हर चीज को साफ करने उतरना होगा। नीलामी कैसी हो, आयोजन स्थल कहां हो और आपको लड़कों को प्रदर्शन करने का पूरा मौका देना होगा, ताकि वह अपना पूरी टैलेंट दिखा सके। अगले तीन मुकाबलों में हमें ज्यादा से ज्यादा फायदा उठाना होगा और यह अगले साल के लिए अच्छी तैयारी रहेगी। हमें बल्लेबाज को पहचानना होगा, वो गेंदबाज तलाशना होगा जो डेथ ओवर में अच्छी गेंदबाजी कर पाए और वो खिलाड़ी जो दबाव झेल पाए।”

कप्तान हूं भाग नहीं सकता, हर मैच खेलना होगा

धौनी से जब पूछा कि अब क्या करना हो तो उन्होंने कहा, “कप्तान भाग नहीं सकता है, इसी वजह से मैं आगे के बचे भी सभी मुकाबलों को खेलूंगा।” 

Spread the love

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here