दुबई: लगातार तीन मैच हारने के बाद चेन्नई सुपर किंग्स (सीएसके) जीत की पटरी पर लौट आई है। सीएसके ने रविवार को आईपीएल 2020 के 44वें मुकाबले में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (आरसीबी) को 8 विकेट से करारी शिकस्त। पहले चेन्नई के गेंदबाजों ने और फिर उसके बल्लेबाजों ने शानदार प्रदर्शन किया। दुबई इंटरनेशनल क्रिकेट स्टेडियम में खेले गए इस मैच में आरसीबी ने 145 रन बनाए। जवाब में सीएसके ने 18.4 ओवर में 2 विकेट गंवाकर 150 रन बनाकर जीत हासिल कर ली। चेन्नई के लिए सलामी बल्लेबाज ऋतुराज गायकवाड़ (नाबाद 65) ने सबसे ज्यादा रन बनाए। आरसीबी की ओर से क्रिस मॉरिस और युजवेंद्र चहल ने एक-एक विकेट अपने नाम किया।

गायकवाड़ का जमकर चला बल्ला

लक्ष्य का पीछा करते हुए चेन्नई ने अच्छी शुरुआत की। ऋतुराज गायकवाड़ और फाफ डुप्लेसिस ने पहले विकेट के लिए 46 रन जोड़े। अच्छी लय में नजर आ रहे डुप्लेसिस को आउट कर क्रिस मॉरिस ने चेन्नई को पहला झटका दिया। वह छठे ओवर में मोहम्मद सिराज को कैच थमाकर पवेलियन लौटे। इसके बाद गायकवाड़ और अंबाती रायुडू ने दूसरे विकेट के लिए 67 रन की अहम साझेदारी की। रायुडू को 14वें ओवर में युजवेंद्र चहल ने बोल्ड कर पवेलियन भेजा। उनके जाने के बाद गायकवाड़ और एमएस धोनी ने मोर्चा संभाला और टीम को जिताकर लौटे। दोनों ने तीसरे विकेट के लिए 37 रन की अविजित साझेदारी की। गायकवाड़ 51 गेंदों में 4 चौकों और 3 छक्कों के दम पर 65 रन बनाकर नाबाद रहे जबकि धोनी ने 21 गेंदों में 3 चौकों की बदौलत नाबाद 19 रन बनाए।

आरसीबी ने किया सधा आगाज

इससे पहले टॉस जीतकर बल्लेबाजी करने उतरी आरसीबी ने निर्धारित 20 ओवर में 6 विकेट गंवाकर 145 रन बनाए। बैंगलोर के लिए कप्तान विराट कोहली (50) ने सर्वाधिक रन बनाए। आरसीबी ने सधा हुआ आगाज किया। पारी की शुरुआत करने आए देवदत्त पडिक्कल और आरोन फिंच ने पहले विकेट के लिए 31 रन की साझेदारी की। इस साझेदारी को सैम करन ने चौथे ओवर में फिंच को आउट कर तोड़ा। उन्होंने बड़ा शॉट जमाने के प्रयास में ऋतुराज गायकवाड़ को कैच थमा दिया। फिंच ने 21 गेंदों में 2 चौकों और 1 छक्के के जरिए 22 रन बनाए। उनके बाद पडिक्कल भी ज्यादा देर नहीं टिक सके और सातवें ओवर में मिशेल सेंटनर का शिकार बन गए। वह भी गायकवाड़ के हाथों कैच आउट हुए। उन्होंने 11 गेंदों में 3 चौकों की मदद से 15 रन बनाए। उनका विकेट 46 के कुल स्कोर पर गिरा।

कोहली ने की अहम साझेदारी

दो विकेट गिरने के बाद विराट कोहली और एबी डिविलियर्स ने मोर्चा संभाला। दोनों ने चेन्नई के गेंदबाजों का डटकर सामने किया और तीसरे विकेट के लिए 82 रन की पार्टनरशिप की। हालांकि, डिविलियर्स अर्धशतक से चूक गए और 18वें ओवर में अपना विकेट गंवा बैठे। उन्हें चाहर ने फाफ डुप्लेसिस के हाथों लपकवाया। उन्होंने 36 गेंदों में 39 रन की पारी खेली। उन्होंने इस  दौरान 4 चौके मारे। उनका विकेट 128 के कुल स्कोर पर गिरा। इसके बाद बल्लेबाजी के लिए आए मोइन अली महज 1 रन बनाकर पवेलियन लौट गए। उन्हें करन ने अपना शिकार बनाया।

कोहली बने करन का शिकार

बैंगलोर को पांचवां झटका कोहली के रूप में लगा। कोहली अर्धशतक जमाने के बाद फौरन आउट हो गए। उन्होंने 43 गेंदों में 1 चौके और 1 छक्के की बदलौत 50 रन बनाए। उन्हें करन ने 19वें ओवर की आखिरी गेंद पर पवेलियन की राह दिखाई। वह छक्का मारने चाहते थे लेकिन डुप्लेसिस ने शानदार कैच लपक लिया। उनका विकेट 138 के कुल स्कोर पर गिरा। टीम का छठा झटका क्रिस मॉरिस के तौर पर लगा। वह सिर्फ 2 रन बना सके। उन्हें चाहर ने आखिरी ओवर में बोल्ड किया। वहीं गुरकीरत सिंह मान 2 और वॉशिंगटन सुंदर 5 रन बनाकर नाबाद रहे। सीएसके की तरफ से सैम करन ने तीन, दीपक चाहर ने दो और मिशेल सेंटनर ने एक विकेट हासिल किया।

Spread the love

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here