• भारत ने इंग्लैंड के खिलाफ चौथा टेस्ट जीत लिया
  • भारत ने मुकाबले के तीसरे दिन जीत दर्ज की
  • दोनों टीमों नरेंद्र मोदी स्टेडियम में टकराईं

अहमदाबाद: स्पिनर अक्षर पटेल (48 रन देकर 5 विकेट) और आर अश्विन (47 रन देकर 5 विकेट) की शानदार गेंदबाजी के दम पर भारत ने इंग्लैंड के खिलाफ चौथा और आखिरी टेस्ट अपने नाम कर लिया। अहमदबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में खेले गए इस टेस्ट में भारत ने पारी और 25 रन से जीत दर्ज की। इस जीत के साथ भारत ने चार टेस्ट मैचों की सीरीज 3-1 से अपने नाम कर ली है। साथ ही भारत विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में भी पहुंच गया है। भारत की टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में न्यूजीलैंड से भिड़ंत होगी, जो इसी साल जून में खेला जाएगा।

अंतिम टेस्ट में इंग्लैंड ने टॉस जीतकर बल्लेबाजी करने का फैसला किया था और पहली पारी के 205 रन बनाए। जवाब में भारत ने पहली पारी में 365 रन बनाए और 160 रन की बढ़त हासिल की। इसके बाद इंग्लैंड की टीम शनिवार को तीसरे दिन दूसरी पारी में महज 135 रन बनाकर ढेर हो गई और भारत ने बड़ी जीत दर्ज कर ली। इंग्लैंड के लिए डान लॉरेंस (50) ने सबसे ज्यादा रन बनाए।

इंग्लैंड ने दूसरी पारी में भी खराब आगाज किया

इंग्लैंड ने दूसरी पारी में भी बेहद निराशाजनक आगाज किया। सलामी बल्लेबाज जैक क्रॉले (5) पांचवें ओवर की चौथी गेंद पर आर अश्विन का शिकार बन गए। अश्विन ने इसी ओवर की पांचवीं गेंद पर उनके बाद जॉनी बेयरस्टॉ (0) को भी चलता किया। वहीं, अक्षर पटेल ने 10वें ओवर में डोम सिबली (3) को पंच के हाथों कैच आउट कराया। इसके बाद बेन स्टोक्स 14वें ओवर में पेविलयन लौट गए। उन्हें पटेल ने कप्तान विराट कोहली के हाथों कैच कराया। पहली पारी में अर्धशतक जमाने वाले स्टोक्स सिर्फ 2 रन ही बना सके। इंग्लैंड को ओली पोप (15) से काफी उम्मीदें थीं, मगर अक्षर ने 25वें ओवर में अपना शिकार बना लिया।

जो रूट ने काफी देर तक अकेले मोर्चा संभाला

एक छार से लगातार विकेट गिर रहे थे, लेकिन कप्तान जो रूट ने काफी देर तक अकेले मोर्चा संभाले रखा। चौथे नंबर पर बल्लेबाजी करने उतरे रूट ने 72 गेंदों में 3 चौकों की मदद से 30 रन की पारी खेली। वह छठे बल्लेबाज के रूप में आउट हुए। उन्हें अश्विन ने 26वें ओवर में एलबीडब्ल्यू कर पवेलियन भेजा। छह विकेट गिरने के बाद डान लॉरेंस (50) ने टिककर बल्लेबाज की। कुछ देर बेन फोक्‍स (13) ने लॉरेंस का अच्छा साथ दिया और दोनों ने सातवें विकेट के लिए 44 रन की  साझेदारी की। इस पार्टनरशिप को पटेल ने 44वें ओवर में फोक्‍स को आउट कर तोड़ा। पटेल ने डॉम बेस (2) को 46वें ओवर में जबकि अश्विन ने जैक लीच को 55वें ओवर में पवेलियन भेजा। वहीं, लॉरेंस के आउट होते ही इंग्लैंड की दूसरी पारी 135 रन पर सिमट गई और भारत मैच जीत गया।

वॉशिंगटन सुंदर महज चार रन से शतक से चूके

इससे पहले भारत ने तीसरे दिन 294/7 से आगे खेलना शुरू किया और टीम ने 71 रन जोड़कर मजबूत चुनौती पेश की। वॉशिंगटन सुंदर ने दूसरे दिन स्‍टंप्‍स तक 60 जबकि अक्षर पटेलर ने 11 रन बनाए थे। दोनों जब शनिवार को खेलने उतरे तो फिर अंग्रेज गेंदबाजों का सामना किया। दोनों ने आठवें विकेट के लिए 106 रन की शानदार साझेदारी की। हालांकि, सुंदर शतक से और पटेल अर्धशतक से चूक गए। पटेल 43 रन बनाकर 365 के कुल स्कोर पर रन आउट हो गए। इसके बाद ईशांत शर्मा और मोहम्मद सिराज बिना खाता खोले ही पवेलियन लौट गए और भारतीय पारी ढेर हो गई। सुंदर ने 174 गेंदों में 10 चौकों और 1 छक्के की मदद से 96 रन की दमदार पारी खेली। भारत की ओर से सर्वाधिक रन रिषभ पंत (101) ने बनाए। इंग्लैंड के लिए बेन स्टोक्स ने चार, जेम्स एंडरसन ने तीन और जैक लीच ने दो विकेट हासिल किए।

पहली पारी में बेन स्‍टोक्‍स ने सर्वाधिक रन बनाए

टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने वाली इंग्लैंड की टीम पहली पारी में जल्द निपट गई। अक्षर पटेल और रविचंद्रन अश्विन की जोड़ी ने इंग्लैंड को अपनी फिरकी का जाल में फंसाते हुए 205 रन पर समेट दिया था। अक्षर ने चार और अश्विन ने तीन विकेट लिए। वहीं, मोहम्मद सिराज ने दो विकेट चटकाए थे। बेन स्‍टोक्‍स (55) ने इंग्‍लैंड की तरफ से सबसे ज्यादा रन बनाए थे। जॉनी बेयरस्टॉ (28), डैन लॉरेंस (46) और ओली पोप ने 29 रन की पारी खेली। कप्तान जो रूट का बल्ला खामोश रहा था और वह महज 5 रन के निजी स्कोर पर विकेट गंवा बैठे।

भारत-इंग्लैंड ने प्लेइंग इलेवन में किया बदलाव

भारत ने तीसरे टेस्‍ट की तुलना में अपनी प्‍लेइंग इलेवन में केवल एक बदलाव किया है। जसप्रीत बुमराह की जगह मोहम्‍मद सिराज को शामिल किया गया है। वहीं इंग्‍लैंड ने अपनी टीम में दो बदलाव किए हैं। स्‍टुअर्ट ब्रॉड और जोफ्रा आर्चर की जगह डान लॉरेंस व डॉम बेस को शामिल किया गया है। भारतीय टीम को अगर आईसीसी विश्‍व टेस्‍ट चैंपियनशिप के फाइनल में पहुंचना है तो उसे यह टेस्‍ट कम से कम ड्रॉ कराना होगा। अगर वह मुकाबला ड्रॉ कराने या जीतने में सफल हुई तो डब्‍ल्‍यूटीसी फाइनल में न्‍यूजीलैंड से भिड़ेगी।

Spread the love

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here