नई दिल्‍ली. देश में कोरोना वायरस संक्रमण   के मामले एक बार फिर बढ़ते दिखाई दे रहे हैं. हफ्ते दर हफ्ते की बात करें तो दूसरी लहर   से लेकर अब तक 11 हफ्तों में पहली बार कोरोना के नए मामलों में बढ़ोतरी देखने को मिली है. यह भविष्‍य में देश में कोरोना महामारी   के फिर बढ़ने का संकेत हो सकता है. इस समय देश में तीन राज्‍यों से बड़ी संख्‍या में मामले सामने आ रहे हैं. ये राज्‍य हैं केरल, कर्नाटक और तमिलनाडु.

भारत में 26 जुलाई से 1 अगस्‍त के हफ्ते में 2.86 लाख कोरोना के नए केस दर्ज किए गए. यह इसके पिछले हफ्ते से 7.5 फीसदी अधिक है. उस हफ्ते यह आंकड़ा 2.66 लाख था. दूसरी लहर के दौरान 3 से 9 मई के हफ्ते के बाद देश में पहली बार साप्‍ताहिक रूप से कोरोना केस बढ़े हैं. कोरोना केस घटने का सिलसिला पिछले हफ्ते तक जारी था. यहां तक कि यह कमी 1.4 फीसदी तक आ गई थी.

देश में सर्वाधिक कोरोना केस इस समय केरल में आ रहे हैं. मौजूदा हफ्ते में केरल में 1.4 लाख केस दर्ज किए गए. यह पिछले हफ्ते के आंकड़ों से 26.5 फीसदी अधिक था. तब ये आंकड़ा 1.1 लाख था. देश में रोजाना आने वाले कोरोना केस में केरल की हिस्‍सेदारी पिछले सात दिनों में करीब 49 फीसदी रही है. रविवार को केरल में कोरोना के 20728 नए केस दर्ज किए गए. यह लगातार छठा दिन था, जब राज्‍य में कोरोना के नए मामले 20 हजार से अधिक आए थे.

इससे यह भी पता चलता है कि केरल के हालात का असर उसके पड़ोसी राज्‍यों पर भी दिख रहा है. कर्नाटक में पिछले हफ्ते के मुकाबले इस हफ्ते कोरोना केस में 17.3 फीसदी की बढ़ोतरी देखी गई है. कर्नाटक में इस हफ्ते महज 12442 नए कोरोना केस दर्ज किए गए. जबकि पिछले हफ्ते यह आंकड़ा 10610 था.

तमिलनाडु में साप्‍ताहिक आंकड़ा एकसमान रहा. इस हफ्ते भी वहां 13090 केस आए तो वहीं पिछले हफ्ते 13095 केस थे. महाराष्‍ट्र में साप्‍ताहिक आंकड़ों में करीब 6.2 फीसदी की कमी आई है.

Spread the love

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here