लंदन: इंग्लैंड के खिलाफ लॉर्ड्स में खेले गए दूसरे टेस्ट मैच में टीम इंडिया के खिलाड़ियों को इंग्लिश अंपायरों के भेदभावपूर्ण रवैये का सामना करना पड़ा. बता दें कि लॉर्ड्स में खेले गए दूसरे टेस्ट मैच के पांचवें और आखिरी दिन इंग्लैंड के खिलाड़ियों ने टीम इंडिया के क्रिकेटर्स के साथ जमकर बदतमीजी की. जब भारतीय टीम के खिलाड़ियों ने इंग्लैंड के खिलाड़ियों की शिकायत अंपायरों से की तो उन्होंने भारतीय खिलाड़ियों को मुंह सीलने का इशारा किया.

टीम इंडिया के साथ अंपायरों ने किया भेदभाव : इस टेस्ट मैच में क्रिकेट के अलावा भी मैदान पर स्लेजिंग का खेल खेला जा रहा था. टेस्ट मैच के पांचवें दिन इंग्लैंड के तेज गेंदबाज मार्क वुड और जेम्स एंडरसन जसप्रीत बुमराह के शरीर को टारगेट करते हुए खतरनाक बाउंसर गेंदों से हमला कर रहे थे. बुमराह को दो बार गेंद सिर पर लगी. इसके बाद इंग्लैंड के विकेटकीपर जोस बटलर भी जसप्रीत बुमराह को भला बुरा कह रहे थे.

फिर बुमराह-शमी ने दिखाया रौद्र रूप : बुमराह के साथ बैटिंग कर रहे भारतीय खिलाड़ी मोहम्मद शमी ने जब मैदान अंपायर रिचर्ड इलिंगवर्थ से इंग्लैंड के खिलाड़ियों की शिकायत की तो अंपायर ने अंग्रेज खिलाड़ियों का पक्ष लेते हुए उल्टा शमी को ही मुंह सीलने का इशारा किया. अंग्रेज खिलाड़ियों और अंपायर रिचर्ड इलिंगवर्थ की वह बात भारतीय खिलाड़ियों को इतनी चुभी किस उन्होंने मैदान पर अपना रौद्र रूप दिखा दिया. इस मैच में अंपायरिंग करने वाले दोनों अंपायर रिचर्ड इलिंगवर्थ और माइकल गफ इंग्लैंड के ही हैं. आईसीसी ने भारत और इंग्लैंड के बीच इस पूरी टेस्ट सीरीज में इंग्लैंड के अंपायरों को ही चुना है.

Spread the love

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here