इंदौरः इंदौर में तीन दिन पहले लापता हुए टायर व्यापारी का सोमवार सुबह सिमरोल के जंगलों में मिला है। शव पर कोई कपड़ा नहीं था और वह पूरी तरह से सड़ चुका था। पुलिस ने गला दबाकर हत्या की आशंका जताई है। व्यापारी के सिर में गोली भी लगी है। शव को पोस्टमोर्टम के लिए भेज दिया है। वहीं, नौकरानी और उसके पति को हिरासत में ले लिया गया है। पुलिस ने मोबाइल लोकेशन और परिवार से मिली जानकारी के आधार पर आरोपियों को पकड़ा है।

पुलिस के मुताबिेक, टायर व्यापारी अशोक शर्मा शनिवार से लापता थे। सोमवार सुबह ग्रामीणों ने सूचना दी कि सिमरोल के जंगल में अज्ञात शव पड़ा हुआ है। पुलिस ने शव की शिनाख्त की तो शव अशोक शर्मा का निकला। शरीर पूरी तरह से सड़ चुका था, जिसको देखकर अंदाजा लगाया जा रहा है कि वह 2-3 दिन पुराना है। शव पूरी तरह से नग्न अवस्था में था और कपड़े कुछ दूरी पर पड़े मिले है। उसके सिर में गोली लगी हुई थी।

पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमोर्टम के लिए भेज दिया है। दरअसल, सीसीटीवी कैमरे में पुलिस को अशोक देवास नाका पेट्रोल पंप से नौकरानी ब्रजेश और उसके पति राजकुमार के साथ बाइक पर जाता दिखा। इस फुटेज के आधार पर पुलिस ने ब्रजेश और राजकुमार को पकड़ा है, जिसके बाद उसने हत्या की बात कबूली और शव सिमरोल के जंगल में होना बताया।

राजकुमार ने पुलिस को बताया कि 2015 में वह अशोक की दुकान पर नौकरी करता था। इस दौरान अशोक की दोस्ती उसकी पत्नी ब्रजेश से हुई थी। जब ये बात उसे पता लगी तो उसने नौकरी छोड़ दी और दोनो सागर चले गए। लॉकडाउन के बाद जब वापस से वह शहर में आए तो यहां अशोक ब्रजेश से संबंध बनाने को लेकर दबाव बनाने लगा। यह बात ब्रजेश ने राजकुमार को बताई और उसके बाद दोनों ने अशोक को रास्ते से हटाने के लिए साजिश रची और उसकी हत्या कर दी। फिलहाल पुलिस की पूछताछ जारी है।

Spread the love

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here