लखीमपुर खीरी में केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्र के घर पर पुलिस ने नोटिस चस्पा कर दी है। ये नोटिस धारा 160 के तहत चस्पा की गई है। जिसमें बेटे आशीष मिश्र को कल सुबह 10 बजे क्राइम ब्रांच ने पूछताछ के लिए लखनऊ बुलाया है। यहां उसे जांच कमेटी के सामने अपना पक्ष रखना होगा। मंत्री का घर लखीमपुर के शाहपुरा कोठी इलाके में है।

नोटिस
नोटिस

सिद्धू हिरासत से छूटे

लखीमपुर खीरी जा रहे पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू को UP बॉर्डर पर सहारनपुर में पुलिस ने हिरासत में ले लिया था। इस पर नाराज कांग्रेसियों ने UP पुलिस का पहला बैरिकेड तोड़ दिया। इसके बाद पुलिस ने सिद्धू और उनके साथ गए मंत्री अमरिंदर सिंह राजा वड़िंग, विजयेंद्र सिंगला, गुरकीरत कोटली समेत 4 विधायकों को हिरासत में लिया था। इसके बाद सभी करीब पांच घंटे तक धरने पर बैठे रहे। रात में करीब 6 बजे सभी को पुलिस ने छोड़ दिया। इसके बाद सिद्धू का काफिला लखीमपुर खीरी के लिए रवाना हो गया है।

इससे पहले मोहाली में सिद्धू ने कहा था कि अगर कल (शुक्रवार) तक केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्र के बेटे आशीष की गिरफ्तारी नहीं हुई वह भूख हड़ताल पर बैठ जाएंगे। इस बीच सपा नेता अखिलेश यादव लखीमपुर पहुंच गए हैं। उन्होंने सबसे पहले मृतक लवप्रीति के परिवार से मुलाकात की। फिर नक्षत्र सिंह के परिवार से मिले। दोनों को हर संभव मदद करने का भरोसा दिया। अखिलेश यादव ने मृतक पत्रकार रमन के परिजनों से भी मुलाकात की है।

आशीष की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी
लखीमपुर हिंसा के मामले में पुलिस ने दो आरोपी को गिरफ्तार किया और 3 आरोपियों को हिरासत में लिया। लव, कुश और आशीष पांडेय गिरफ्तार किए गए हैं। आशीष मिश्र की गिरफ्तारी के लिए पुलिस की छापेमारी चल रही है। उन्हें समन भी भेजा गया है।

गृह मंत्री के बेटे को समन भेजा गया- IG
लखीमपुर मामले में IG रेंज लक्ष्मी सिंह ने कहा कि दो लोगों को पूछताछ के लिए बुलाया गया। दोनों से पूछताछ में कई सारे सबूत और साक्ष्य मिले हैं। घटना में शामिल तीन आरोपियों की जानकारी मिली है, जिनकी मौत हो चुकी है। मौके से खोखे भी बरामद हुए हैं, जिनकी फोरेंसिक जांच कराई जा रही है। गृह राज्य मंत्री के बेटे आशीष मिश्र को भी पूछताछ के लिए समन भेजकर बुलाया जाएगा।

लखीमपुर जाने के लिए निकले सिद्धू।
लखीमपुर जाने के लिए निकले सिद्धू।
पीड़ित परिवार वालों से बातचीत करते अखिलेश यादव।
पीड़ित परिवार वालों से बातचीत करते अखिलेश यादव।

सुप्रीम कोर्ट ने मांगी स्टेटस रिपोर्ट

लखीमपुर खीरी हिंसा को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने UP सरकार को कटघरे में खड़ा कर दिया है। कोर्ट ने सरकार को अब तक हुई जांच की स्टेटस रिपोर्ट कल तक सौंपने का आदेश दिया है। इसके अलावा पूछा है कि जिन लोगों के खिलाफ FIR हुई, वे गिरफ्तार हुए क्या? जो लोग आरोपी हैं, उनके खिलाफ जानकारी दी जाए।

इससे पहले चीफ जस्टिस एनवी रमन्ना ने कहा कि इस पूरे मामले पर कोर्ट ने स्वत: संज्ञान लिया है। उनकी अगुवाई में तीन सदस्यीय बेंच सुनवाई करेगी। अब आगे की सुनवाई कल होगी। बता दें कि लखीमपुर हिंसा मामले में बहराइच के किसान हरि सिंह ने केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्र के बेटे आशीष मिश्र समेत 15 लोगों पर हत्या और आपराधिक साजिश का केस दर्ज कराया था। उन्होंने आशीष पर किसानों को कुचलने का आरोप लगाया है।

Spread the love

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here