मुंबई /क्रूज ड्रग्स पार्टी केस में आरोपी किंग खान के बेटे आर्यन फिलहाल 20 अक्टूबर तक मुंबई की आर्थर रोड जेल में ही रहेंगे। मुंबई के स्पेशल NDPS कोर्ट ने गुरुवार को इस मामले की सुनवाई के बाद फैसला सुरक्षित रख लिया। आर्यन आर्थर रोड जेल में कैदी नंबर N956 बनाए गए हैं।

आज ही क्वारैंटाइन पीरियड खत्म होने के बाद आर्यन को आमद वार्ड से जनरल वार्ड में शिफ्ट किया गया है। आर्यन के साथ 5 अन्य लोगों को भी इसी वार्ड में शिफ्ट किया गया है। वे अगले 6 दिन तक 250 से ज्यादा लोगों के साथ बेहद कष्टदायक जीवन बिताने वाले हैं।

सुबह 6 बजे उठना आर्यन की होगी मजबूरी
सुबह 6 बजे जेल अधिकारी बैरक में आते हैं और कैदियों को जगाने के लिए प्लेट या फिर सिटी बजाई जाती है। इसके बाद सभी को कतार में बैठाकर या कभी-कभी खड़ा करके अटेंडेंस ली जाती है। आर्यन को भी नियम के अनुसार अब 6 बजे उठना होगा। सुबह 7 बजे उन्हें नाश्ते ने चाय और पोहा या फिर शीरा दिया जाएगा। सुबह 7 से 10 के बीच स्नान का समय होता है, इसी दौरान आर्यन को भी ब्रेकफास्ट और स्नान दोनों करना होगा।

ऐसी जगह रहना पड़ेगा, जहां करवट बदलना मुश्किल
आमद वार्ड से जनरल वार्ड में शिफ्ट होने के बाद अब आर्यन की परेशानी बढ़ने वाली है। उन्हें जिस वार्ड में शिफ्ट किया गया है, वहां की कैपेसिटी 50 से 80 लोगों की है, लेकिन वर्तमान स्थिति में यहां 300 से ज्यादा बंदी एक साथ रह रहे हैं।

आर्थर रोड जेल के अधीक्षक नितिन वायचल ने कहा है कि आर्यन को कोई स्पेशल ट्रीटमेंट नहीं दिया जा रहा है। ऐसी स्थिति में आर्यन का एक ऐसी जगह 6 दिन गुजारने तकलीफों से भरा हो सकता है, जहां सोते समय करवट लेना भी मुश्किल है। हर बैरक के एक कोने में मंदिर है और दूसरे कोने में कुरान रखा हुआ है।

जेल में जाने के बाद कपड़े उतार आर्यन की हुई तलाशी
सूत्रों के मुताबिक, 8 अक्टूबर को जेल में एंट्री के साथ आर्यन के पूरे कपड़े उतरवाकर उनकी तलाशी ली गई। ये सारी कवायद इसलिए की गई ताकि यह पता लगाया जा सके कि कहीं बंदी ने अपने पास कोई ड्रग्स, चाकू, ताश के पत्ते या फिर कोई प्रतिबंधित चीज तो नहीं छिपा रखी है। जांच के बाद आर्यन के कपड़े वापस दे दिए गए और फिर उन्हें आमद वार्ड में शिफ्ट कर दिया गया।

दिन में एक घंटे टीवी देख सकते हैं आर्यन
जेल नियम के अनुसार, सुबह 11.30 से 12.30 बजे तक सभी बंदियों को दोपहर का भोजन दिया जाता है। जेल की सभी बैरक में एक टीवी है। जेल के अंदर बंदी और कैदी FM रेडियो सुन सकते हैं। नियम के अनुसार, आर्यन भी दोपहर 12 बजे से दोपहर 1.30 बजे तक टीवी देख सकते हैं।

दोपहर के भोजन के बाद बंदियों को आधे घंटे बैरक में टहलने की अनुमति है, लेकिन मौजूदा हालात में बैरक में बिना एक दूसरे से टकराए आप सही से चल भी नहीं सकते हैं। ऐसे में आर्यन को भी इसी तरह 6 दिन काटने पड़ेंगे।

आर्यन की यह तस्वीर तब की है, जब उन्हें मुंबई की आर्थर रोड जेल ले जाया जा रहा था।

टहलने के लिए आर्यन को मिलेंगे सिर्फ आधा घंटे
दोपहर 3 बजे बिल्डिंग के दरवाजे खुलते हैं। एक बैरक में चार दरवाजे होते हैं और आमतौर पर सिर्फ एक दरवाजे को खोला जाता है। आर्थर रोड की एक इमारत में चार बैरक हैं। 3.30 बजे चाय का समय होता है। इसमें कैदी या बंदी आधा घंटे इमारत के अंदर या गलियारे में घूम सकता है या सो सकता है। शाम 6 बजे बिल्डिंग के गेट बंद हो जाते हैं और सभी बंदी और कैदी अपने बैरक में वापस आ जाते हैं। इसके बाद फिर से अटेंडेंस होती है।

शाम 7 बजे से रात के भोजन का समय शुरू हो जाता है। यह खाना बुफे की तरह नहीं दिया जाता है, सभी को एक बार खाना परोस दिया जाता है। हर बार लाइन में कैदी को 15 से 20 मिनट लगते हैं। विचाराधीन बंदी 9.30 बजे तक भोजन कर सकता है। आर्यन को भी रात 9.30 बजे तक अपना भोजन खत्म करना होगा। रात 9.30 बजे आर्यन को सोने के लिए जगह बताई जाएगी। यह जगह समय-समय पर बदलती रहेगी।

आर्यन को खुले में अन्य कैदियों के साथ नहाना होगा
शाम 4 से 6 बजे के बीच बंदी को कपड़े धोने या फिर स्नान करने की छूट होती है। जेल में कैदियों के लिए नहाने वाली जगह ओपन है। यहां एक सीमेंटेड छोटा तालाब है, जिसमें पानी भरा रहता है और हर कैदी को इसी पानी से नहाना और कपड़े धोना होता है। सुबह पानी साफ सुथरा होता है, लेकिन एक बार जब लोग स्नान करना शुरू करते हैं, तो वह धीरे-धीरे गंदा हो जाता है। आर्यन भी अगर सही समय पर नहा नहीं सके तो उन्हें गंदे पानी से नहाना होगा। कैदियों और बंदियों को जल्दी स्नान करना होता है, क्योंकि भीड़ ज्यादा होती है।

अपनी बारी पर नहाने और कपड़ा धोने को मिलेगा
इसके अलावा नहाने वाली जगहों पर छोटे-छोटे टैंक लगे हैं, इनमें सुबह 7 से 10 और शाम 4 से 6 के बीच पानी आता है। इनकी संख्या भी सीमित होती है और हर कैदी को अपनी बारी का इंतजार करना होता है। जेल अधीक्षक के मुताबिक, आर्यन को कोई स्पेशल ट्रीटमेंट नहीं दिया जा रहा है, इसलिए उन्हें भी अपनी बारी के अनुसार यहां जाना होगा।

Spread the love

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here