इंदौर: इंदौर के बर्तन कारोबारी के घर से एक करोड़ रुपये की चोरी के मामले का खुलासा पुलिस ने कर दिया है। घटना की मास्टरमाइंड घर की बहू ही निकली। बर्तन व्यपारी के बेटे राहुल अग्रवाल की पत्नी माधुरी ने ही अपने भाई वैभव के साथ मिलकर इस घटना को अंजाम दिया था। बहू ने पूरी प्लानिंग के साथ घर मे चोरी करवाई थी।बहु ने घर का दरवाजा खुला रखा था ताकि आसानी से घर मे घुसकर माल चुराया जा सके। आरोपियों के पास से चंदन नगर पुलिस ने 85 लाख रुपये के गहने भी बरामद कर लिए हैं।

पुलिस अधिकारियों ने घटना की जानकारी देते हुए बताया कि सीसीटीवी में घटना वाले दिन घर में दो लोग पैदल ही जाते हुए दिखे थे।फिर 20 मिनट बाद ये लोग घर से निकल कर कुछ दूर गए और ऑटो में बैठकर रवाना हो गए। घर के सामने लगे कैमरे के फुटेज में दोनों की पहचान नहीं हो पाई थी।लेकिन जब और फुटेज खंगाले तो आरोपियों के हुलिए से मिलते जुलते शख्स दशहरा मैदान तरफ ऑटो से उतरते दिखे और एक्टिवा से चले गए।फूटेज की जांच में पता चला कि आरोपियों के हुलिए से मिलता जुलता शख्स घर मे आता जाता था।जिसकी पहचान घर की बहू के भाई वैभव के रूप में हुई।

वैभव से जब पुलिस द्वारा सख्ती से पूछताछ की तो उसने सच उगल दिया। उसने बताया कि बहन हमेशा कहती थीं कि उसके जेठ जेठानी के पास ज्यादा सम्पत्ति है खुद का मकान भी है।जेठानी के पास सोना भी ज्यादा है।जिसके बाद घर मे चोरी करने की योजना बनाई। बहन माधुरी ने ही उसे जानकारी दे दी थी कि घर में कोई नहीं रहेगा।

वह अपनी सास को लेकर डाक्टर के पास जाएगी और घर का दरवाजा खुला छोड़ जाएगी।जिसके वैभव ने अपने दुकान पर काम करने वाले अरबाज के साथ वारदात को अंजाम दिया। चोरी में सहयोग करने के लिए पुलिस ने अरबाज पिता याकूब निवासी मोमिनपुरा को भी गिरफ्तार कर लिया है।

Spread the love

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here