इंदौर। बाणगंगा क्षेत्र ( banganga area) के पोलोग्राउंड (pologround)  में हुई युवक की हत्या (Murder)  के मामले में पुलिस (Police) को अहम सुराग हाथ लगे हैं। बताया जा रहा है कि इंदौर (Indore) के एक नामी रिसर्च सेंटर अस्पताल (Hospital) में इंस्ट्रूमेंट घोटाला कर भागे एक डॉक्टर का इस हत्या में हाथ है। उसने अपने गांव के पास के रहने वाले दो शूटरों को सुपारी दी थी।
उज्जैन (Ujjain)  से आकर वाल्मीकि नगर में रहने वाले आकाश पिता यशवंत बिड़किया की कुछ दिनों पहले पोलोग्राउंड के समीप हत्या हुई थी। आकाश पत्नी को बस स्टॉप (Bus Stop) पर छोडक़र लौट रहा था, तब उस पर हमला किया गया था। मौके पर मिर्च पावडर भी मिला था। पुलिस (Police) पहले इसे लूट की नीयत से की गई हत्या समझकर जांच कर रही थी। इसके बाद पुलिस को पता चला था कि आकाश का उज्जैन में कुछ लोगों से लेन-देन का विवाद था। लूट के बिंदु को छोडक़र पुलिस ने लेन-देन के बिंदु पर जांच शुरू की। उज्जैन से कुछ संदेहियों को पकड़ा भी, लेकिन कुछ खास सफलता हाथ नहीं लगी। सूत्रों के हवाले से खबर है कि पुलिस ने मामले की तीसरे बिंदु पर जांच की तो देवास के मनीष नामक एक डॉक्टर का नाम सामने आया। मनीष को पुलिस ने हिरासत में लिया और पूछताछ शुरू कर दी। संभवत: आज इस हत्याकांड से पर्दा उठ जाएगा। पुलिस के पास पुख्ता जानकारी है कि मनीष राजस्थान का रहने वाला है। वह अलवर या जयपुर के पास एक गांव का निवासी है। उसने ही गांव के दो शूटरों को सुपारी देकर हत्या के लिए राजी किया और इंदौर बुलाया था। हालांकि कुछ सूत्र बता रहे हैं कि दोनों शूटरों को धमकाने के लिए राजी किया गया था, लेकिन वे हत्या कर गए। डॉक्टर का आकाश से जुड़ी एक महिला से संबंध बताया जा रहा है। उस महिला की भी हत्या में भूमिका जांची जा रही है। शंका है कि उसे हत्या की जानकारी पहले से थी। हत्यारे पुलिस को गुमराह करने के लिए मिर्च पावडर मौके पर फेंककर गए थे।

बताया जा रहा है कि मनीष इंदौर (Indore) के सांवेर रोड स्थित नामी अस्पताल (Hospital) में डॉक्टर था। यहां उसने अस्पताल के इंस्ट्रूमेंट बेचे थे। बेनकाब होने पर उसे अस्पताल से निकाल दिया गया था। इसके बाद वह देवास (Dewas) के अस्पताल  (Hospital) में प्रबंधक और एचआर हेड बन गया। हालांकि उसकी डिग्री को लेकर अभी भी असमंजस है कि वह असली है या फर्जी। मनीष शादीशुदा बताया जा रहा है, लेकिन उसके चरित्र को लेकर कई बार उंगलियां उठ चुकी हैं।

Spread the love

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here