सोनीपत । सोनीपत के कुंडली बॉर्डर (Sonepat’s Kundli Border) पर एक व्यक्ति (लखबीर) की नृशंस तरीके से हत्या करने के आरोपित सरबजीत को अदालत ने सात दिन की पुलिस रिमांड पर भेज दिया है।बता दें कि कुंडली बॉर्डर पर लखबीर सिंह (Lakhbir Singh) नाम के युवक की बेरहमी से हत्या के मामले में सीआईए सोनीपत व पुलिस तीन आरोपियों को कोर्ट (court) में लेकर पहुंची थी जहां से पुलिस रिमांड पर भेज दिया है। निहंग नारायण सिंह ने न्यायालय में कहा लखबीर की हत्या करने में चारों ही शामिल थे।

सोनीपत के कुंडली बॉर्डर पर लखबीर सिंह की बर्बर तरीके से हत्या करने के आरोपी निहंग नारायण सिंह ने अदालत में कहा कि मैंने लखबीर सिंह की टांग काटी थी। सरबजीत ने हाथ काटा और भगवंत व गोविंद प्रीत ने उसे लटकाने में मदद की। चारों ने ही मिलकर युवक को मारा है, इसमें कोई और शामिल नहीं है। गुरु ग्रंथ साहिब की बेअदबी सहन नहीं की जा सकती।
विदित हो कि लखबीर की हत्या के मामले में तीन आरोपियों को रविवार दोपहर दो बजे न्यायालय में पेश किया गया। निहंग नारायण सिंह ने न्यायालय में कहा लखबीर की हत्या करने में चारों ही शामिल थे।

विदित हो कि एक दिन पहले यानि शनिवार को कोर्ट में आरोपी सरबजीत की पेशी के दौरान धक्कामुक्की होने व उसकी पगड़ी को हाथ लगने के बाद उसके आपा खोने के बाद रविवार को पुलिस ने पत्रकारों पर सख्ती दिखाई। पेशी के दौरान काफी पुलिस बल तैनात रहा। पत्रकारों को आरोपियों के पास नहीं जाने दिया गया। कोर्ट में जाने से भी पत्रकारों को रोक दिया गया। हालांकि बाद में न्यायाधीश के कहने पर दो पत्रकारों को अंदर कार्रवाई देखने व सुनने के लिए बुलाया गया।
इस संबंध में डीएसपी वीरेंद्र सिंह का कहना है कि आरोपियों ने कोर्ट में वारदात को अंजाम देने की बात कुबूल की है। पुलिस मामले से जुड़े साक्ष्य जुटाकर उन्हें कोर्ट में पेश करेगी।

Spread the love

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here