इंदौर। प्रदेश के सबसे बड़े एमडी ड्रग्स मामले में क्राइम ब्रांच की टीम अहमदाबाद से एक और तस्कर हुसैन उर्फ टेम्पो को रिमांड पर लेकर आई थी। उसने पूछताछ में बताया कि वह तीन बार इंदौर आया और लगभग आठ करोड़ की एमडी ड्रग्स लेकर गया था, जो उसने अहमदाबाद और सूरत में अपने ऐजेंटो के माध्यम से खपाई है।

लगभग एक साल पहले क्राइम ब्रांच इंदौर की टीम ने एएसपी गुरुप्रसाद पाराशर के नेतृत्व में प्रदेश के सबसे बड़े एमडी ड्रग्स मामले का खुलासा किया था। पुलिस ने 70 करोड़ की एमडी ड्रग्स पकड़ी थी। सबसे पहले टेंट व्यवसायी दिनेश अग्रवाल और एक फैक्ट्री मालिक सहित तीन लोगों को पकड़ा था। इसके बाद पुलिस ने इस रैकेट से जुड़े 35 लोगों को अलग-अलग राज्यों से गिरफ्तार किया, जिनमें महिलाएं भी थीं। वहीं एक बैंडवाले को भी पकड़ा था, जो इंदौर की जेल में बंद है। उसके बेटे को कुछ दिन पहले एनसीबी मुंबई की टीम मंदसौर से पकडक़र ले गई। दिनेश में पूछताछ में अहमदाबाद के हुसैन उर्फ टेम्पो को अन्य आरोपी अशरफ और अय्यूब के माध्यम से एमडी ड्रग्स देना स्वीकार किया था, लेकिन टेम्पो पुलिस को चकमा देकर फरार हो गया था। टेम्पो ने पुलिस को बताया कि वह तीन बार इंदौर आया और आठ करोड़ की एमडी ड्रग्स लेकर गया था, जो उसने अहमदाबाद और सूरत में दो लोगों को दी थी। उनके नाम भी पुलिस को बताए हैं। उनकी तलाश में क्राइम ब्रांच की टीम अहमदाबाद गई थी, लेकिन वे नहीं मिले। पुलिस का कहना है कि उनकी जानकारी मिल गई है। जल्द ही उनको भी गिरफ्तार कर कर लिया जाएगा।

Spread the love

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here