रीवा: रीवा में एक शिक्षक द्वारा अपने पद और शिक्षा की गरिमा को शर्मिंदा करने वाला मामला सामने आया है। यहां पर कक्षा पांचवीं के स्टूडेंट्स के ग्रुप में एक टीचर ने पोर्न वीडियो का लिंक भेज दिया। कुछ अभिभावकों और टीचर ने जब लिंक क्लिक किया तो अश्लिल वीडियो चलने लगे, जिसके बाद हड़कंप मच गया। इस घटना पर बच्चों के पेरेंट्स और बाकी टीचरों ने कड़ी आपत्ति जताई है।

दरअसल घटना दो दिन पुरानी है। इस मामले में सोमवार को टीचर की शिकायत डीपीसी से की गई है। इस ग्रुप से 28 स्कूलों के 180 छात्र-छात्राएं और 65 महिला शिक्षक भी जुड़ी हुई थी। यह वॉट्सऐप ग्रुप राज्य शिक्षा केंद्र के ‘डीजीलेप’ से बनाया गया है। वीडियो भेजने वाले टीचर का नाम कृपाशंकर चतुर्वेदी बताया जा रहा है। वह शासकीय प्राथमिक पाठशाला मैदानी हरिजन बस्ती में तैनात हैं। बताया जा रहा है कि जिस समय वीडियो लिंक डाला गया था। वह समय बच्चों के पढ़ाने का होता है।आशंका जताई जा रही है कि शिक्षक उसी समय अश्लील वीडियो देख रहा था।

वहीं, मामले में आरोपी शिक्षक कृपाशंकर चतुर्वेदी ने सोशल मीडिया में सफाई देते हुए कहा कि मैं इसके लिए शर्मिंदा हूं। सार्वजनिक रूप से माफी मांगता हूं। मुझे पावर का चश्मा लगता है। भूलवश हाथ लग गया होगा। जिंदगी में इस तरह की गलती नहीं होगी।

Spread the love

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here