इंदौर। बारिश (rain) के कारण शहर की अधिकांश सडक़ें गड्ढामय हो गईं। हालांकि निगम ने पेचवर्क करवा दिए हैं। अब प्रमुख मार्गों, एप्रोच रोड, लिंक रोड   के साथ कई नए लेफ्ट टर्न भी बनाए जा रहे हैं। सडक़ों के निर्माण पर 15 करोड़ 66 लाख और लेफ्ट टर्न पर डेढ़ करोड़ रुपए से अधिक की राशि निगम खर्च करने जा रहा है, वहीं आयुक्त ने आवेदन मिलने पर 7 दिन में नल कनेक्शन देने, शिविर लगाने के साथ ही नर्मदा जल प्रदाय वितरण लाइन  कार्यों का निरीक्षण भी किया और जहां पर पानी की टंकियों का निर्माण पूरा हो गया है, वहां पाइप लाइन नेटवर्क के कार्य जल्द पूरे कर जल प्रदाय शुरू करने के निर्देश भी नर्मदा परियोजना   के अधिकारियों को दिए।

नगर निगम  बड़ा गणपति   से एमजी रोड   की सडक़ का निर्माण तो कर ही रहा है, इसके अलावा मास्टर प्लान की सडक़ों के निर्माण की तैयारी भी की जा रही है, वहीं आरई-2 के अलावा कुछ सडक़ें बेटरमेंट चार्ज लेकर भी बनाई जाएंगी। अभी निगम की योजना शाखा ने साढ़े 15 करोड़ रुपए से अधिक के सडक़ निर्माण के टेंडर भी जारी किए हैं। अधीक्षण यंत्री के मुताबिक प्रमुख सडक़ों, एप्रोच रोड, लिंक रोड आदि का निर्माण किया जाना है। इसके साथ ही नए लेफ्ट टर्न भी विकसित किए जा रहे हैं। निगमायुक्त प्रतिभा पाल   ने नर्मदा जलप्रदाय वितरण लाइन कार्यों का भी निरीक्षण किया और समयसीमा में रेस्टोरेशन के काम भी करने को कहा। आयुक्त पाल ने बताया कि अमृत योजना के फेस 1 के अंतर्गत तपरेश्वरी बाग, हारूल कालोनी व पालीवाल नगर में पेयजल टंकी का निर्माण किया गया है। पेयजल टंकी के ओव्हर हेड टैंक का निर्माण भी पूर्ण हो गया है। वर्तमान में इन पेयजल टंकियों से जलप्रदाय वितरण हेतु पाइप लाइन डालने का कार्य एल एंड टी कंपनी के माध्यम से शहर के विभिन्न स्थानो पर किया जा रहा है। आयुक्त ने बताया कि जल वितरण हेतु पाइप लाइन के नेटवर्क का कार्य अधिकतर स्थानों पर पूर्ण होने की दिशा में है। पाइप लाइन डालने के साथ ही उक्त कालोनियों के नागरिको को नल कनेक्शन कराने हेतु जानकारी देने के संबंध में भी अधिकारियो को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए हैं।
Spread the love

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here