जयपुर । कोरोना वायरस (corona virus) के नए वैरिएंट ओमीक्रोन (New Variants Omicron) की दहशत के बीच जयपुर में 12 दिसंबर को होने वाली कांग्रेस (Congress) की महंगाई हटाओ महारैली (grand rally) की तैयारियां शुरू कर दी गई हैं। रैली में कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi), पार्टी महासचिव प्रियंका (Priyanka) और सांसद राहुल गांधी (Rahul Gandhi) समेत पार्टी के अधिकांश दिग्गज नेता मौजूद रहेंगे।

रैली के आयोजन को लेकर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गोविन्द सिंह डोटासरा आज मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से मुलाकात करेंगे। वहीं संगठन महामंत्री के.सी. वेणुगोपाल और प्रदेश प्रभारी अजय माकन से भी वर्चुअल रूप से चर्चा की जाएगी। वेणुगोपाल और माकन रैली की तैयारियों एवं स्थान चयन को लेकर शुक्रवार (3 दिसंबर) को जयपुर का दौरा करेंगे और संभावित स्थानों का अवलोकन करेंगे।

उल्लेखनीय है कि दिल्ली पुलिस की ओर से दी गई रिपोर्ट के बाद उप राज्यपाल की ओर से कांग्रेस को रैली की अनुमति नहीं मिलने के बाद बुधवार को कांग्रेस ने दिल्ली में होने वाली महंगाई हटाओ महारैली को राजस्थान की राजधानी जयपुर में शिफ्ट करने की निर्णय लिया था। रैली की तैयारियों का जायजा लेने कांग्रेस के संगठन महामंत्री केसी वेणुगोपाल और प्रदेश प्रभारी अजय माकन तीन दिसंबर को जयपुर आएंगे। शुक्रवार को तय होगा कि जयपुर में यह रैली कहां होगी, क्योंकि जयपुर में एक लाख से ज्यादा की भीड़ इकट्ठा होने के लिए फिलहाल नज़र में कोई स्थान नहीं है। ऐसे में विद्याधर नगर, रामनिवास बाग या किसी ग्रामीण क्षेत्र में इस रैली का आयोजन कराया जा सकता है। पार्टी की ओर से शक्ति प्रदर्शन के तौर पर देखी जा रही इस महंगाई हटाओ रैली में देशभर से कांग्रेस कार्यकर्ताओं के आने की संभावना है।

इससे पूर्व, मंगलवार को रैली के सफल आयोजन और भीड जुटाने की तैयारियों को लेकर पीसीसी की बैठक बुलाई गई थी। इसमें मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, प्रभारी अजय माकन और पीसीसी अध्यक्ष गोविंद डोटासरा सहित अन्य वरिष्ठ नेता मौजूद थे। बुधवार को रैली के स्थान परिवर्तन की सूचना मिलने के बाद राजस्थान में इस रैली को लेकर कांग्रेसी नेताओं में उत्साह देखने को मिल रहा है।

Spread the love

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here