डॉ. नवीन जोशी

भोपाल।प्रदेश की शिवराज सरकार ने रायसेन जिले के सांची वैश्विक धरोहर से 15 किमी दूर ग्राम नीनोद के 70 हैक्टेयर क्षेत्र में अंतर्राष्ट्रीय गोल्फ कोर्स बनाने का एक अमेरिकन कंपनी को दिया ठेका (लेटर ऑफ अवार्ड) निरस्त कर दिया है। यह ठेका पिछली कमलनाथ सरकार ने फरवरी 2020 में दिया था। अब नये सिरे से यहां गोल्फ कोर्स बनाये जाने की कवायद की जा रही है।
उक्त ठेका अमेरिकन कंपनी वेसले ग्रुप को दिया गया था। ठेका करीब 220 करोड़ रुपयों का था तथा कंपनी फारेंड फाण्डिंग नियमों के हिसाब से 4 करोड़ 65 लाख रुपये प्रीमीयम राशि के रुप में जमा करने थे। ठेका मिलने के बाद कोविड की पहली लहर आ गई थी जिस पर कंपनी को अतिरिक्त समय शिवराज सरकार ने दिसम्बर 2020 तक के लिये दे दिया था। लेकिन कंपनी ने शर्तें लगाना प्रारंभ कर दी थीं। मसलन, सब्सीडी की राशि 15 प्रतिशत से बढ़ाकर 40 प्रतिशत की जाये तथा और समय बढ़ाया जाये।
चूंकि यह प्रोजेक्ट सौ करोड़ रुपयों से अधिक का था और इसे मुख्य सचिव की अध्यक्षता वाली साधिकार समिति ने स्वीकृति दी थी जिसके नियमों में निर्धारित अवधि में प्रीमीयम राशि जमा करने का प्रावधान था। इसलिये कंपनी द्वारा विलम्ब करने पर उसे दिया ठेका अब निरस्त कर दिया गया है। पिछली कमलनाथ सरकार ने इस कंपनी को गोल्फ कोर्स के साथ होटल/रिसोर्ट/कन्वेंशन सेंटर बनाने की भी सैध्दांतिक अनुमति दी थी।
उक्त ठेका निरस्त होने के बाद राज्य पर्यटन बोर्ड नये सिरे से ग्राम नीनोद में गोल्फ कोर्स बनाने के लिये निजी निवेशकों को ऑफर जारी करने की तैयारी कर रहा है। इसकी पुष्टि पर्यटन बोर्ड ने की है।

भारत भवन ट्रस्ट भंग, छह विजय मनोहर तिवारी सहित 6 नये न्यासी नियुक्त

भोपाल।राज्य सरकार ने संस्कृति विभाग के अंतर्गत भोपाल स्थित भारत भवन के ट्रस्ट को भंग कर दिया है तथा ट्रस्ट में छह नये ट्रस्टी नियुक्त कर दिये हैं। नवनियुक्त छह ट्रस्टी हैं : पद्मभूषण सुश्री पद्मा सुब्रमण्यम चेन्नई (नृत्य), पद्मश्री मनोज जोशी (फिल्म), पद्मभूषण पण्डित विश्वमोहन भट्ट जयपुर (संगीत), पद्मश्री श्रीमती भूरी बाई भोपाल (चित्रकला), सीएस कृष्णाशेट्टी बैंगलूर (चित्रकला) तथा विजय मनोहर तिवारी भोपाल (लेखन)।

Spread the love

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here