रायपुर। ड्रग्स के काले कारोबार में अभी तक पुरुषों का ही दखल सामने आते रहा है। लेकिन अब इस मामले में महिलाओं की भागीदारी की चौंकाने वाली खबर सामने आई है। जहरीले नशे की तफ्तीश कर रही राजधानी पुलिस ने एक ऐसी युवती को गिरफ्तार किया है, जो पेशे से है इंजीनियर लेकिन मशीनों और इलेक्ट्रानिक्स के क्षेत्र में कामकाज करने की जगह करती थी ड्रग्स का कारोबार।राजधानी सहित पूरे प्रदेश में फैले जहरीले नशे के कारोबार की छानबीन कर रही रायपुर पुलिस ने भिलाई निवासी निकिता पंचाल को गिरफ्तार किया है। जानकारी के मुताबिक एनआईटी रायपुर से पढ़ाई कर चुकी निकिता की दोस्ती ऐसे युवकों से हो गई जो ड्रग्स का कारोबार करते थे। ड्रग्स के कारोबार से मिलने वाले मुनाफे और चकाचौंध भरी जिंदगी निकिता को अपनी ओर आकर्षित करती थी। महंगे शौकों को पूरा करने और लग्जरी लाइफ जीने की आकांक्षा ने निकिता को अपनी ओर खींच लिया। देखते ही देखते निकिता होटल, पार्टियों, इवेंट्स इत्यादि में ड्रग्स सप्लाई करने लगी।

पुलिस के मुताबिक ड्रग पैडलर श्रेयांश झाबक और विक्की बंछोर की गिरफ्तारी के बाद लगातार जांच आगे बढ़ाई गई है। जांच में निकिता को मिलाकर अब तक अलग-अलग स्थानों से 12 ड्रग पैडलेरो की गिरफ्तारी हो चुकी है। जिसमें कल भिलाई निवासी  निकिता पंचाल को गिरफ्तार किया गया है। निकिता अपने साथियों श्रेयांश, विक्की,अभिषेक और मिन्हाज के साथ मिलकर पिछले 2 सालों से कोकीन की सप्लाई कर रही थी। आरोपियों होटलों की पार्टी और इवेंट्स में जाकर लोगों को ड्रग देकर आदि बनाती थी। सायबर सेल द्वारा आरोपियों के मोबाइल फोन को जब्त कर आगे की जाँच की जा रही है, इस मामले में आगे और भी गिरफ्तारी की जाएगी।

Spread the love

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here